Thursday, December 12, 2019
Home > featured > छत्तीसगढ़ सरकार ने रमन सिंह और उनके परिवार की वीआईपी सुरक्षा में की कटौती, मिलेगी जेड सुरक्षा

छत्तीसगढ़ सरकार ने रमन सिंह और उनके परिवार की वीआईपी सुरक्षा में की कटौती, मिलेगी जेड सुरक्षा

रायपुर| केंद्र की मोदी सरकार के बाद अब छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने भी प्रदेश के कई बड़े नेताओं की सुरक्षा में कटौती करने का फैसला किया है। प्रदेश सरकार ने जिन बड़े नेताओं की सुरक्षा घटाई है। उनमें पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनके परिजनों के अलावा कई और बड़े नेताओं का शामिल है। प्रदेश सरकार ने बीते 13 नवंबर को कई जनप्रतिनिधियों की वीआईपी सुरक्षा की समीक्षा की थी।

गृह विभाग की ओर से जारी आदेश के मुताबिक पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की जेड प्लस की सुरक्षा वापस ले ली गई है अब रमन सिंह की सुरक्षा में जेड श्रेणी की होगी। इसी तरह उनके बेटे और पूर्व सांसद अभिषेक सिंह की सुरक्षा भी जेड श्रेणी की होगी जबकि रमन सिंह की पत्नी वीणा सिंह की सुरक्षा जेड सुरक्षा वापस ले ली गई है। नई व्यवस्था के तहत अब उन्हें वाय प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। इसके अलावा रमन सिंह की पूर्व वधु ऐश्वर्या सिंह और बेटी अस्मिता गुप्ता की एक्स श्रेणी की सुरक्षा हटा दी गई है वहीं केन्द्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह, कांकेर की पूर्व विधायक सुमित्रा मारकोले, कांकेर के ही पूर्व विधायक सेवक राम नेताम, भानुप्रतापपुर के पूर्व विधायक ब्रह्मानंद नेताम की वाई प्लस श्रेणी और छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री शिवकुमार डहरिया की वाई श्रेणी की सुरक्षा को बरकरार रखा गया है। इसके अलावा पूर्व मंत्री गणेशराम भगत, चित्रकोट के पूर्व विधायक लच्छूराम कश्यप और चित्रकोट के ही पूर्व विधायक बैदूराम कश्यप की जेड श्रेणी की सुरक्षा को यथावत रखने का फैसला लिया गया है। बतादें कि केंद्र सरकार ने करीब 350 जनप्रतिनिधियों की वीआईपी सुरक्षा की समीक्षा की थी। समीक्षा के बाद सरकार ने गांधी परिवार समेत कई बड़े नेताओं की वीआईपी श्रेणी की सुरक्षा में कटौती करने का फैसला किया था।