Tuesday, July 23, 2019
Home > featured > प्रदेश में मिलेंगे निःशुल्क औषधीय पौधे, छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड ने पौधा वितरण कार्यक्रम की शुरूआत

प्रदेश में मिलेंगे निःशुल्क औषधीय पौधे, छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड ने पौधा वितरण कार्यक्रम की शुरूआत

०० रायपुर शहर में फोन नम्बर 0771-2522056 एवं मोबाइल नम्बर 99818-35527 से सम्पर्क कर प्राप्त कर सकेंगे औषधीय पौधे   

रायपुर| प्रदेश में नागरिक अब निःशुल्क औषधीय पौधे प्राप्त कर सकेंगे। यह सुविधा होम हर्बल योजना के तहत प्राप्त हो सकेगी। वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में बहुमूल्य औषधीय गुणों से युक्त वन सम्पदा है। ऐसे औषधीय पौधों का अधिक से अधिक वितरण किया जाना चाहिएताकि आम नागरिकों को इसकी जानकारी मिले और वे इसका लाभ उठा सके। छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड कार्यालय परिसर ने आज निःशुल्क औषधीय पौधा वितरण की शुरूआत की गई। इसका शुभारंभ बोर्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर.बी.पी. सिन्हा द्वारा किया गया। रायपुर शहर में रायपुर वनमंडलबोर्ड कार्यालय (0771-2522056/99818-35527) से सम्पर्क कर निःशुल्क औषधीय पौधे प्राप्त किया जा सकता है।

श्री सिन्हा ने बताया कि बोर्ड द्वारा प्रतिवर्ष होम हर्बल गार्डन योजनांतर्गत औषधीय पौधों का निःशुल्क वितरण किया जाता है। इस वर्ष पूरे राज्य के 18 वनमंडलों   (बिलासपुर,  कोरबामरवाहीकटघोरादुर्गकबीरधामरायपुरराजनांदगांवगरियाबंदमुंगेलीबलौदाबाजरजांजगीर चांपासूरजपुरअम्बिकापुरजशपुरकोरियापश्चिम भानुप्रतापपुर एवं पूर्व भानुप्रतापपुर) में लगभग 25.00 लाख औषध्ीाय पौधों का निःशुल्क वितरण का लक्ष्य रखा गया है। औषधीय पौधों के निःशुल्क वितरण का कार्य संबंधित वनमंडलाधिकारियोंवैद्य संघ एवं राही ग्रामीण संस्थान द्वारा किया जावेगा। उन्होंने बताया कि वितरण किए जाने वाले औषधीय पौधों में आंवला,  नीम,  हर्रा,  बहेड़ा,  जामुननिर्गुण्डीबेलतुलसीएलोवेराब्राम्हीकेवकंदसतावरमंडूकपर्णी एवं अन्य कई प्रकार के औषधीय पौधों शामिल हैं।  घर / स्कूल/ कॉलेज/ कार्यालय परिसर में औषधीय पौधों का छोटा सा उद्यान बनाकर उनका सही उपयोग कर छोटी-मोटी बीमारियों से निजात पाया जा सकता है।