Feature 1अपराधरायपुर

आदतन बदमाश ने दुल्हे व बरातियो से की जमकर मारपीट, पुलिस ने नहीं की कार्यवाही

०० जामुल पुलिस ने शिकायत के बाद भी नहीं की कार्यवाही, उच्चाधिकारियों ने प्रभारी को लगाई फटकार

रायपुर| दुर्ग जिले में जामुल थाना अंतर्गत एक युवक ने अपने दोस्तों के साथ लाठी डंडे से बारातियों पर हमला कर दिया। बारात का स्वागत करने खड़ा लड़की के बाप ने जब यह देखा तो वह बीच बचाव करने भागा। इसके बाद भी गुंडे नहीं माने। उन्होंने लड़की के बाप, दूल्हे, दूल्हे के भाई और महिलाओं की जमकर पिटाई की। दूल्हे की गाड़ी व बस सहित चार गाड़ियों के शीशे फोड़ दिए। इतनी बड़ी वारदात होने के बाद भी जामुल पुलिस अब तक आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

 

यह भी पढ़े :
निलंबित आईपीएस जीपी सिंह को मिली उच्च न्यायालय से जमानत, आय से अधिक संपत्ति के मामले में थे जेल में बंद 

 

शांति नगर मठपारा उरकुरा रायपुर निवासी रमा साहू पिता नारायण प्रसाद साहू (21 साल) ने मामले की शिकायत जामुल थाने में दर्ज कराई है। रमा का आरोप है कि वह लोग नालंदा स्कूल के पास स्थित अटल आवास में बारात लेकर आए थे। रात में बारात लड़की के घर जाने के लिए निकली थी। गुरुवार रात 9 बजे के करीब जैसे ही बारात लड़की के घर से थोड़ी दूर पर थी, उस दौरान सौरभ तिवारी, ललवा सहित चार लड़के डंडा व लाठी लेकर आए और बारातियों को मारना शुरू कर दिया। उन्होंने दूल्हे को गाड़ी से निकालकर मारा, दूल्हे के भाई व बहन को मारा। लड़की का बाप जब बीच बचाव करने आया तो उन्होंने उसके साथ भी मारपीट की। इसके साथ उसके साथियों ने दूल्हा गाड़ी सीजी 04 एमपी 9042, बाराती बस सीजी 06 एच 1800, डीआई सीजी 04 एनजे 4428 सहित एक अन्य गाड़ी के कांच तोड़ दिए। जामुल पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया है, लेकिन एक भी आरोपी पकड़ा नहीं जा सका है। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि पूरी रात आरोपी मोहल्ले में ही स्कूटी से घूम रहे थे, लेकिन पेट्रोलिंग टीम ने उन्हें नहीं पकड़ा। फिलहाल आरोपी ने क्यों ये सब किया है, इस बात की जानकारी सामने नहींं आ सकी है।

 

यह भी पढ़े :
किसान की सिर कुचलकर निर्मम हत्या, हत्या के दौरान घर पर परिजन थे मौजूद 

 

मारपीट की इस घटना में रिखीराम साहू, सनत कुमार, शिवचरण साहू और रमा साहू को चोटें आई हैं। इनका आरोप है कि वह लोग जब जामुल थाने पहुंचे तो रात 9.30 बजे थाने में मौजूद स्टाफ ने उनकी एक नहीं सुनी। इतना ही नहीं उसी दौरान आरोपी सौरभ तिवारी थाने पहुंचा और उन्हें धमकी देने लगा। सौरभ तिवारी आदतन बदमाश और नशे का आदी युवक है। इसके बाद भी पुलिस ने उसे नहीं रोका। पुलिस पर बाराती पक्ष को डराने का आरोप भी लग रहा है। शिकायतकर्ताओं का कहना है कि पुलिस उन्हें समझौते के लिए के लिए दबाव डाल रही थी और कह रही थी कि एफआईआर कराओगे तो काउंटर अपराध दर्ज होगा।

Related Articles

Back to top button