भाजपा के षड्यंत्र बेनकाब हो रहे हैं तो छटपटा गए साय : कांग्रेस

रायपुर। प्रदेश काँग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपाई राजनैतिक षंडयत्र पर्दाफाश होने से भाजपा के नेता तिलमिला रहे है। उलजुलुल बयानबाजी कर रहे है। विष्णुदेव साय को डरपोक और निडर में फर्क पता नही है। विष्णुदेवसाय जिस दल के प्रदेश अध्यक्ष हैं वो दल जिस व्यक्ति को अपना मार्गदर्शक मानती है जिसके आईडियोलॉजी पर चलती है जिसकी जयकारा लगाती है वह व्यक्ति स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान अंग्रेजों से अनेकों बार माफी मांगे और फिरंगियों से मासिक तनख्वाह पाते थे। जिसको पूरा देश माफीवीर के नाम से जानता है माफी वही मांगता है जो डरपोक होता है। जब प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय के पूज्यनीय लीडर ही डरपोक हैं ऐसे में भाजपा के नेताओं के डरपोक होना स्वभाविक सी बात है। जो जिसकी पूजा करता है वह वैसा ही बनता है। 7 साल के सत्ता के बाद हालात यह हो गए हैं काले करतूत ऐसे रहे हैं कि उन्हें अपने परछाई से भी अब डर लगने लग गया है अपने लोगों पर ही भरोसा नहीं है अपने देश पर ही भरोसा नहीं है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के बताएं अहिंसा के मार्ग पर चलती है गांधीवाद के विचारधारा पर चलती है और गांधीवाद वह विचारधारा है जो अंग्रेजों के गोलियों कोड़ो यातनाओं से जेलों के सलाखों से फाँसी के फंदो से और काला पानी की सजा से नहीं डरी फिर ये चंद नारंगी लोगो से ड़रने वाली नहीं है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र में बैठी मोदी भाजपा की सरकार देश के लोकतंत्र के विपरीत काम करती है अभिव्यक्ति की आजादी का हनन करती है सत्ता का दुरुपयोग करती है हम दो हमारे दो के नीति पर चलती है और हमेशा जनविरोधी नीतियों को लागू करती  है इसलिए किसानों से डरती है देश के बेरोजगार नौजवानों से डरती है देश के विपक्ष से डरती है बेटियों से भी डरती है और पांच राज्यों के चुनाव में हार के डर से अभी से सदमे मे है। स्वभाविक सी बात है कर्म ही ऐसे हैं कि उन्हें अब खुद के परछाई से भी डर लगता है। भाजपा को अब ना तो न्यायालय पर भरोसा है ना ही सुरक्षा एजेंसियों पर ना ही पुलिस के जवानों पर भाजपा देश में मुद्दाविहीन हो चुकी है वादाखिलाफी के गर्त में आंकठ तक डूब चुकी है जन विश्वास खो चुकी है इसलिए भाजपा झूठे मनगढ़ंत आरोप लगाकर जनता का ध्यान भटका ना चाहती है जनता भाजपा के इस राज राजनीतिक नौटंकी को समझ रही है।