मुख्यमंत्री किसान है छत्तीसगढ़ की जनता जानती है सांसद विजय बघेल के प्रमाण की जरूरत नहीं : निर्मल कोसरे

रायपुर। जिला कांग्रेस कमेटी दुर्ग ग्रामीण के अध्यक्ष निर्मल कोसरे ने दुर्ग लोकसभा सांसद विजय बघेल के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल किसान है, छत्तीसगढ़ की जनता जानती है सांसद को प्रमाण देने की जरूरत नहीं है। विजय बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ के किसान और स्वाभिमान पर थूकने की बात करने वाली डी पुरंदेश्वरी के बचाव करने से स्पष्ट हो गया है कि विजय बघेल को छत्तीसगढ़ से, छत्तीसगढ़ के किसान से और छत्तीसगढ़ के स्वाभिमान से कोई लेना देना नहीं है। छत्तीसगढ़ सरकार हर जाति, धर्म, समुदाय एवं हर वर्ग के लोगों के सम्मान और उनकी भावनाओं की कद्र करती है। मुख्यमंत्री ने कहा था की सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। मुख्यमंत्री और उनके पिता के मतभेद शुरू से है ये बात दुर्ग  एवं छत्तीसगढ़ लोग जानते है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल किसान होने के साथ-साथ छत्तीसगढ़िया स्वाभिमान के प्रतीक हैं। ऐसे मुख्यमंत्री के ऊपर सवाल उठाने से पहले सांसद को बार बार सोचना चाहिए एवं सांसद के द्वारा भाजपा प्रभारी डी पुरंदेश्वरी के बयान का समर्थन कर उनका बचाव करना, छत्तीसगढ़ के किसानों एवं छत्तीसगढ़ वासियों का अपमान है। जब देश और प्रदेश कोरोना संक्रमण से जूझ रहा था उस समय सांसद के द्वारा सांसद निधि छत्तीसगढ़ सरकार को ना देकर केंद्र सरकार को देने का काम किया, जबकि दुर्ग और छत्तीसगढ़ के लोगों ने उनको सांसद बनाया है। यदि दुर्ग सांसद सच्चे मायने में छत्तीसगढ़ के किसानों के हितेषी हैं तो केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए तीन कृषि बिल जो कि किसानों के हित में नहीं है उनका विरोध करके दिखाएं। राज्यों को रासायनिक खाद उपलब्ध कराना, खाद के दाम तय करना, धान खरीदी के लिए बोरा उपलब्ध कराना यह केंद्र सरकार की जवाबदारी है। जिन दुर्ग सांसद को कभी भी छत्तीसगढ़ के किसानों के हित के लिए संसद में आवाज उठाते नहीं सुना गया, वो किसान हितैषी होने का दिखावा करना बंद करें। भाजपा के छत्तीसगढ़ प्रभारी द्वारा दिए गए बयान से वह कितनी सुसंस्कृत हैं, इसकी झलक छत्तीसगढ़ की जनता ने देख चुकी है, आने वाला 2023-24 के चुनाव में भाजपा को ऐसे अमर्यादित अपमानजनक बयान का भी खामियाजा भुगतना पड़ेगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं छत्तीसगढ़ सरकार ने पहला काम किसानों का कर्जा माफ करने का किया, केंद्र सरकार के अड़ंगा के बाद भी राजीव गांधी किसान न्याय योजना के द्वारा प्रति क्विंटल धान को ₹2500 में खरीदने का काम कर रहे हैं, सिंचाई कर माफ, बिजली का बिल हाफ, 52 प्रकार के वन उपजों की खरीदी, भूमिहीन किसानों को प्रतिवर्ष ₹6000 देने की शुरुआत करने जा रही है। भगवान राम हम सब के आदर्श हैं 15 वर्षों तक छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार रही लेकिन कभी भी माता कौशल्या धाम चंदखुरी से राम वन गमन पथ निर्माण के बारे में नहीं सोचा। लेकिन भूपेश सरकार जहां जहां भगवान राम जी गुजरे हैं वहां राम वन गमन पथ का निर्माण करने जा रहे हैं।

error: Content is protected !!