मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता की गिरफ्तारी को भाजपा ने बताया नौटंकी

०० पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा, उत्तर प्रदेश में कहीं गिरफ्तार न हो जाएं इसलिए सरकार ने बिछाया जाल

०० नन्द कुमार बघेल की गिरफ्तारी पर प्रदेश अध्यक्ष साय ने जताया संतोष

रायपुर| मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल की गिरफ्तारी पर भाजपा ने इसे कांग्रेस की नौटंकी बताया है। भाजपा प्रवक्ता और पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा- उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष चुनाव है। मुख्यमंत्री के पिता वहां गिरफ्तारी न हो जाए, इसलिए सरकार ने यह जाल बिछाया है।

मूणत ने कहा कि भूपेश बघेल ने पिता की गिरफ्तारी के जरिए उंगली कटाकर शहीद बनने की कोशिश की है। यह उनकी राजनीतिक नौटंकी है और सिर्फ वोट को साधने की राजनीति है। उन्होंने कहा कि पिता-पुत्र समाज में वैमनस्यता फैलाने के उद्देश्य पर काम कर रहे हैं। बेटा धर्मांतरण को समर्थन दे रहा है, तो पिता बार-बार वर्ग विशेष पर टिप्पणी कर रहा है। अपनी साजिश को भुनाने के लिए किस हद तक जा सकते हैं, उसकी बानगी है कि बेटे ने भी जमानत नहीं ली थी, अब पिता भी उसी राह पर है। भाजपा के रायपुर जिलाध्यक्ष और पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश के चुनाव को देखते हुए हुआ है। यह गिरफ्तारी भी निश्चित रूप से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दबाव में हुई है। राजेश मूणत बेटे के जमानत नहीं लेने के जिस किस्से का जिक्र कर रहे थे, वह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की गिरफ्तारी से जुड़ा हुआ है। उसमें राजेश मूणत खुद बड़ा किरदार हैं। 24 सितम्बर 2018 को सीबीआई ने कथित रूप से राजेश मूणत से जुड़ी अश्लील सीडी को वितरित करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। उस समय भूपेश बघेल ने जमानत लेने से इनकार कर दिया। उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया। उसके बाद पहली बार कांग्रेस की वापसी की पटकथा तैयार हो गई। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा- कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद से ही नंद कुमार बघेल लगातार देश-धर्म-जातियों के खिलाफ भड़काऊ और उकसाऊ बयानबाजी करते रहे हैं। साय ने कहा कि भाजपा लगातार कांग्रेस सरकार को इन घटनाक्रमों से सावधान करती आ रही थी, लेकिन कभी मुख्यमंत्री ने ध्यान नहीं दिया। क्योंकि, मामला सीधे मुखिया के पिता से जुडा था, ऐसे में प्रशासन भी इनके खिलाफ कदम उठाने का साहस नहीं कर पा रहा था। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इस समय कारवाई के लिए हरी झंडी दिखाने के भले अलग सियासी कारण हों, फिर भी इस करवाई पर संतोष व्यक्त किया जा सकता है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को रायपुर पुलिस ने आगरा से गिरफ्तार कर लिया है। उन्हें मंगलवार को रायपुर की अदालत में पेश किया गया है। यहां से उन्होंने जमानत लेने और वकील रखने से इनकार कर दिया। अदालत ने उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। उन पर ब्राह्मणों को लेकर विवादित बयान देने का आरोप है।

error: Content is protected !!