पोषण माह-2021 : एनीमिया-कुपोषण के प्रति जागरूकता के लिए राजधानी में विशाल साइकिल रैली 11 सितम्बर को

०० ‘गढ़बो नवा सुपोषित छत्तीसगढ़का संदेश लेकर मरीन ड्राइव से साइकिल में निकलेंगे जनप्रतिनिधि
०० पोषण मेरी भी जिम्मेदारीके साथ कुपोषण मुक्त छत्तीसगढ़ की ओर बढ़ेंगे कदम

रायपुर| पोषण माह के अवसर पर छत्तीसगढ़ को कुपोषण-एनीमिया से मुक्त बनाने और लोगों में सुपोषण के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा राजधानी रायपुर के तेलीबांधा स्थित मरीन ड्राइव में 11 सितम्बर को सुबह 07 विशाल साइकिल रैली का आयोजन किया जाएगा। इस रैली में गढ़बो नवा सुपोषित छत्तीसगढ़ का संदेश लेकर जनप्रतिनिधि और आमजन शामिल होंगे।
‘पोषण मेरी भी जिम्मेदारी‘ के ध्येय वाक्य को लेकर रैली में कई कदम कुपोषण मुक्त छत्तीसगढ़ बनाने की ओर आगे बढ़ेंगे। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती भेंड़िया ने कहा है कि कुपोषण देश की एक बड़ी समस्या है, जिसका प्रभाव महिलाओं और बच्चों में अधिक देखा गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल सहित हम सबने छत्तीसगढ़़ को कुपोषण मुक्त बनाने का सपना देखा है। राज्य सरकार ने इसके लिए 2 अक्टूबर 2019 से मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान शुरू किया है। इसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। प्रदेश में कुपोषित बच्चों की संख्या में 32 प्रतिशत की कमी आई हैे और 80 हजार महिलाएं एनीमिया से मुक्त हो गई हैं। उन्होने आम जनता से सहयोग की अपील करते हुए कहा है कि सुपोषित छत्तीसगढ़ का सपना जन-सहयोग से ही पूरा हो सकता है। हर व्यक्ति यदि पोषण को स्वयं की जिम्मेदारी मान ले तो आसानी से कुपाषण मुक्ति की ओर बढ़ा जा सकता है। उन्होंने कहा कि अपने आस-पास के लोगों को सुपोषण के लिए जागरूक करना भी हम सबकी एक महत्वपूर्ण जवाबदारी है।

error: Content is protected !!