मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बॉस्केट बॉल मैदान में दिखाया अपना खेल जौहर 

०० मुख्यमंत्री ने शिक्षा मड़ईमें शिक्षकों के नवाचार प्रदर्शनी का अवलोकन कर प्रशंसा की   
रायपुर| मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज जब आमापारा स्थित स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट विद्यालय योजना के अंतर्गत संचालित आर.डी. तिवारी शासकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल के उन्नयन कार्य का लोकार्पण कर स्कूल परिसर का अवलोकन कर रहे थे, तो उस समय उन्होंने बॉस्केट बॉल मैदान में खेल रहे बच्चों के पास जाने से अपने आपको नहीं रोक सके और उन्होंने भी बॉस्केट बॉल मैदान में अपनी खेल प्रतिभा का प्रदर्शन किया।


मुख्यमंत्री ने बॉस्केट बॉल नेट से काफी दूर से गंेद सीधे नेट में फेंककर बॉस्केट किया। वहां उपस्थित स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, विधायक श्री कुलदीप जुनेजा, श्री विकास उपाध्याय, श्री महापौर एजाज ढेबर, प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला सहित बच्चों ने मुख्यमंत्री के खेल कौशल की तारीफ की।
मुख्यमंत्री ने यहां आयोजित ‘शिक्षा मड़ई‘ में बालिकाओं के टिप्पल खेल, फुगड़ी, बच्चों के गेंड़ी नृत्य का अवलोकन किया और भौंरा लेकर भौंरा को हवा में उछाला और सीधे अपने हाथों में लिया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सिनेमा वाले बाबू श्री अशोक सिंह लोधी, मोटर सायकिल गुरूजी श्री रूद्र प्रताप सिंह राणा, पपेट शो की श्री अमरदीप भोगल, आदिवासी बच्चों स्थानीय भाषा में पढ़ाने वाले श्री सिकन्दर खान, श्यामपट वाले गुरूजी श्री वीरेन्द्र भगत, मुस्कान पुस्तकालय की श्रीमती मधु वर्मा, लाउड स्पीकर से शिक्षा देने वाले श्री विजय बघेल, ‘अंगना म शिक्षा‘ देने वाली श्रीमती शीला गुरू स्वामी और नीता साहू के प्रदर्शन का अवलोकन किया और उनके साथ बातचीत करते हुए, उनके नवाचार की भूरी-भूरी प्रशंसा की।
डेस्क में बैठकर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने बच्चों से पढ़ाई-लिखाई की जानकारी ली :- स्कूल कक्षाओं के अवलोकन के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल न केवल शिक्षकों से रूबरू होकर बात की, बल्कि कक्षा के बालक और बालिकाओं से भी उनकी पढ़ाई-लिखाई की जानकारी ली। मुख्यमंत्री कक्षा दसवीं के शशांक वर्मा के साथ उनके डेस्क में बैठे और उनसे स्कूल में एडमिशन लेने और यहां हो रही पढ़ाई के बारे में पूछा। शशांक ने बताया कि उसने अपनी मर्जी से इस स्कूल में एडमिशन लिया है। वह पहले रायपुर के निजी इंग्लिश मीडियम के स्कूल में पढ़ता था। इस स्कूल में निजी स्कूलों जैसी ही शिक्षा तथा अन्य सुविधाएं जैसे स्मार्ट क्लास, स्पोर्टस एक्टिविटीस आदि उपलब्ध है। इसी तरह बॉयोलॉजिक लैब में कार्य कर रही कक्षा 12वीं की पलक गुप्ता ने मुख्यमंत्री को अपने फर्राटेदार इंग्लिश में बताया कि वह माईक्रोस्कोप के द्वारा पौधों के प्लांट सेक्शन की स्टडी कर रही है। मुख्यमंत्री द्वारा यह पूछे जाने पर कि उन्होंने इस स्कूल को क्यों सलेक्ट किया ? पलक ने बताया कि पहले वह रायपुर के एक निजी इंग्लिश स्कूल में पढ़ती थी, इस स्कूल के शिक्षक और शिक्षा की गुणवत्ता दोनों काफी अच्छी है। इसी तरह स्कूल के लाईब्रेरी, स्पोर्ट्स तथा अन्य गतिविधियां भी उत्कृष्ट स्तर की है और उसने इस स्कूल का चयन काफी खुशी-खुशी किया है।

error: Content is protected !!