खाद्य मंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिमंडलीय  उपसमिति की बैठक सम्पन्न, अतिशेष धान के विक्रय हेतु नीलामी की दरें अनुमोदित

०० पिछले वर्ष खरीदे गए धान का लगभग शत्-प्रतिशत निष्पादन

०० कस्टम मिलिंग में तेजी लाने मिलर्स से करें सतत् समन्वय

०० आगामी खरीफ विपणन वर्ष में धान खरीदी तैयारियों की विस्तारपूर्वक चर्चा: लक्ष्य से कुछ अधिक मात्रा में बारदानें की उपलब्धता सुनिश्चित हो

रायपुर| खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत की अध्यक्षता में आज उनके निवास कार्यालय में राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के किसानों से समर्थन मूल्य में खरीदे गए अतिशेष धान की नीलामी के माध्यम से विक्रय के लिए गठित मंत्रिमंडलीय उपसमिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में खरीदे गए 92 लाख मीट्रिक टन धान के निष्पादन के संबंध में विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। बैठक में अतिशेष बचे धान की नीलामी के लिए दरों का अनुमोदन कर दिया गया है। इस नीलामी के बाद इस खरीफ वर्ष में खरीदे गए सरप्लस धान के लिए यह अंतिम नीलामी है। इसके बाद समितियों में मात्र 60 हजार मीट्रिक टन शेष रह जाएंगे, जिसका निष्पादन कस्टम मिलिंग के माध्यम से जल्द कर लिया जाएगा। मंत्रीमंडलीय उप समिति की बैठक में संग्रहण केन्द्रों में एकत्र धान का तेजी से कस्टम मिलिंग कराने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किए हैं। इसके अलावा केन्द्रीय पूल और नॉन में भी जल्द चावल जमा कराने पर जोर दिया गया।
मंत्रीमंडलीय उप समिति की बैठक में 10 से 13 अगस्त के बीच नीलामी की गई मोटा धान 13 हजार 394 मीट्रिक टन जिसके लिए 1350 रूपए से अधिक की प्राप्त दरें और 10 हजार 402 हजार मीट्रिक टन पतला धान जिसके लिए 1400 रूपए की प्राप्त दरें को अनुमोदित की गई। इस तरह लगभग सरप्लस 10 लाख मीट्रिक टन धान का निष्पादन नीलामी के माध्यम से हो गया है। बैठक में आगामी खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में राज्य सरकार द्वारा किसानों से समर्थन मूल्य में धान खरीदने पर भी विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में अल्पवर्षा अथवा खण्डवर्षा की स्थिति को ध्यान में रखते हुए धान खरीदी की लक्ष्य के मुताबिक बारदानें की उपलब्धता पर भी चर्चा की गई। इसके अलावा धान उपार्जन केन्द्रों के सशक्तिकरण के लिए भी विचार-विमर्श किया गया। उपसमिति में कृषि एवं पशुधन विकास मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, परिवहन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम और उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल शामिल हैं। बैठक में भण्डार गृह निगम के अध्यक्ष एवं विधायक श्री अरूण वोरा, अपेक्स बैंक के चेयरमेन श्री बैजनाथ चन्द्राकर, कृषि विभाग की सचिव डॉ. एम. गीता, खाद्य विभाग के सचिव श्री टोपेश्वर वर्मा, सहकारिता विभाग के सचिव श्री हिमशिखर गुप्ता, विशेष सचिव मनोज सोनी, मार्कफेड की प्रबंध संचालक श्रीमती किरण कौशल, नॉन के प्रबंध संचालक श्री निरंजन दास और अपेक्स बैंक के श्री के.एन. टांडे, वेयर हाऊस के एम.डी. श्री अभिनव अग्रवाल सहित अन्य संबंधित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

error: Content is protected !!