रायपुर-बिलासपुर के बीच चलने वाली ट्रेनों में चोरी की घटना को अंजाम देने वाला गिरफ्तार

००आरोपी युवक चोरी के समानो को ससुराल में करता था गिफ्ट,

०० आरोपी के ससुराल से ही मिले चोरी के 20 हजार रुपए

रायपुर| रायपुर की आरपीएफ और जीआरपी की टीमों ने मिलकर एक चोर को पकड़ा है। पिछले कई दिनों से इसने कई ट्रेनों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। यात्रियों की लगातार शिकायतें मिल रही थीं। आखिरकार इस बदमाश को गिरफ्तार कर लिया गया। रेलवे की पुलिस टीमों ने जिसे पकड़ा है उस चोर का नाम सौरभ बुरांडे है। महासमुंद के बागबहरा में कर्रापारा इलाके का रहने वाला सौरभ रायपुर, बिलासपुर में चोरियों को अंजाम देकर अपने घर भाग जाया करता था। सबसे रोचक कि सौरभ चोरी के सामान को अपने ससुराल में गिफ्ट कर देता था या रखवा देता था।
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक सौरभ को रायपुर के प्लेटफॉर्म नंबर दो पर पकड़ा गया। पुलिस को मुखबिरों से खबर मिली थी रायपुर के प्लेटफॉर्म पर एक चोर घूम रहा है, जो पिछले दिनों कुछ वारदातों को अंजाम दे चुका है। पुलिस के पास इसके हुलिए की जानकारी थी इसलिए फौरन इसे रोककर टीम ने पूछताछ शुरू की। हड़बड़ाया हुआ सौरभ ठीक से बात नहीं कर पा रहा था। टीम समझ गई कुछ तो गड़बड़ है। पुलिस को इसने बता दिया कि पिछले महीने इसने एक महीने पहले रायपुर रेलवे स्टेशन पर एक महिला यात्री का हैंड बैग चुराया था। चोरी के बाद अक्सर चोरी का माल सौरभ अपने ससुराल में छोड़ दिया करता था। कभी वह इसे गिफ्ट बताता तो कभी उसे बतौर अमानत वहां रख देता। इस बार भी जब टीम ने पूछताछ की तो महासमुंद के नयापारा स्थित सौरभ के ससुराल से चोरी की रकम 20 हजार रुपए पुलिस को मिले। रायपुर में जिस महिला का पर्स इस बदमाश ने चुराया था उसमें 70 हजार रुपए थे। सौरभ ने पुलिस को बताया कि बाकि के रुपए राशन लाने और जुआ खेलने में खर्च हो गए। सौरभ ने बताया कि चोरी के बाद कई बार वो ट्रेन की दूसरी बोगी में छुप जाता था। ट्रेन जब किसी स्टेशन में रुकती तो वहां उतर कर भाग जाता था। अब टीम ने इसे जेल भेज दिया है।

error: Content is protected !!