“पहले निवेदन होगा फिर आवेदन देंगे, इसके बाद ईंट से ईंट बजा देंगे : भाजपा

०० पूर्व मंत्री मूणत और बृजमोहन ने कहा, डेढ़ महिने के लिए भाजपा ने बनाया एक्शन प्लान

रायपुर| रायपुर के भाजपा कार्यालय में मंगलवार की दोपहर पूर्व मंत्री राजेश मूणत और बृजमोहन अग्रवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मौजूदा कांग्रेस की सरकार की वजह से शहर का विकास रुक गया है। आपराधिक मामलों में तेजी आ गई है। ये सब नहीं चलेगा, भाजपा इसका विरोध करेगी। मूणत ने कहा हम और हमारे कार्यकर्ता पहले निवेदन करेंगे, फिर आवेदन देंगे और जनता के हितों की रक्षा के लिए इस कांग्रेस पार्टी वाली सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। उन्होंने कहा हम ने आने वाले डेढ़ महीने में लिए रणनीति बनाई है। इस पर अब जल्द ही अभियान शुरू किए जाएंगे।

पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश कि राजधानी में अवैध शराब बिक्री के कारण अपराधी, नशेड़ी बेखौफ चाकूबाजी करके आतंक का राज कायम कर रहे हैं। साइबर अपराध राजधानी रायपुर में हर दिन हो रहे हैं। रायपुर में लोग खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। कब किसी के साथ लूट हो जाए, चाकू से हमला हो जाए कोई ठिकाना नहीं है। कोरोना के काल में जब लोगों की नौकरियां गईं, खाने की दिक्कत है। सरकार ने बिजली के दाम भी बढ़ा दिए। 1 हजार यूनिट के खर्च पर 400 रुपए एक्स्ट्रा देने होंगे। इन तमाम मुद्दों पर अगस्त के इस महीने से सितंबर तक लगातार भाजपा लोगों के बीच जाकर सरकार की नाकाम नितियों को उनके सामने रखेगी और कानून व्यवस्था ठीक करने, बिजली के बढ़े दाम वापस लेने और शहर का रुका विकास शुरू करने की मांग करेगी।

भाजपा का सियासी कैलेंडर, इन तारीखों पर होगा बवाल :- 15 अगस्त को भाजपा कार्यकर्ता हर वार्ड में झंडा फहराएंगे, सियासी बातचीत भी होगी। पार्टी के आंदोलनों के लिए लोगों को जुटाया जाएगा। 17 अगस्त बिजली दर वृद्धि वापस लेने की मांग को लेकर सभी 70 वार्ड में कंडील यात्रा निकाली जाएगी। 22 अगस्त को भाजपा की महीला नेता, सभी वार्ड की बेसहारा, बुजुर्ग महिलाओं के साथ त्योहार मनाएंगी। 26 अगस्त को भाजपा शहर जिला की टीम संपत्ति कर में 50% कमी करने की मांग को लेकर सभी 10 निगम जोन कार्यालय का घेराव करेगी। अगस्त के आखिर सप्ताह में शहर की कानून व्यवस्था और सफाई के साथ विकार के मुद्दे पर प्रदर्शन होगा। 6 सितंबर को बिजली के दामों और ग्रामीण इलाकों कटौती के मुद्दे पर बिजली विभाग के दफ्तर का घेराव होगा। सितंबर के दूसरे स्पताह में पूरे शहर में एक साथ भाजपा के नेता मौजूदा सरकार के खिलाफ रैली निकालकर प्रदर्शन करेंगे।

error: Content is protected !!