भाजपा सीएजी की रिपोर्ट के आधार पर कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार के एक आरोप लगाने की स्थिति में नही : कांग्रेस

०० सीएजी की रिपोर्ट कांग्रेस की ईमानदार सरकार का आईना

रायपुर। सीएजी की रिपोर्ट पर भाजपा द्वारा प्रेस वार्ता ले कर लगाए गए आरोपो का जबाब देते हुए प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि  सीएजी की रिपोर्ट के आधार पर भाजपा कांग्रेस सरकार पर भ्रस्टाचार के एक भी आरोप नही लगा पाई क्यो की महालेखाकार की रिपोर्ट में ऐसी कोई भी गड़बड़ियां है ही नही जिस पर भाजपा कोई आरोप लगा सके ।इसके पहले 15 सालों तक रमन सरकार के समय सीएजी की रिपोर्ट के आधार पर तत्कालीन रमन सरकार पर भ्रस्टाचार के अनेकों प्रमाणिक आरोप लगे थे। यह कांग्रेस की ईमानदार और पारदर्शी सरकार देने की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

भाजपाई राज्य पर कर्ज के बोझ बढ़ने का रोना रो रहे लेकिन यह भूल रहे कांग्रेस सरकार ने भले खुद कर्ज लिया लेकिन राज्य के लाखों किसानों को कर्ज मुक्त कर उन्हें आत्महत्या जैसे आत्म घाती कदम उठाने  से बचा लिया जो रमन राज में 15 साल हो रहा था।भूपेश सरकार ने कर्ज ले कर राज्य के आम आदमी की शशक्तता के दरवाजे खोले धान को समर्थन मूल्य में खरीदने से ले कर राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानों की सहायता की गई, लघुवनोपज खरीद कर आदिवासी समुदाय को शसक्त बनाया। भाजपाई राज्य की जीडीपी पर बयान बाजी कर रहे उन्हें देश की जीडीपी से छत्तीसगढ़ की जीडीपी का तुलनात्मक अध्ययन करना चाहिये तब समझ आएगा कि मोदी राज में देश की जीडीपी ऋणात्मक हो रही तब भी छत्तीसगढ़ की जीडीपी रास्ट्रीय औसत से बेहतर है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्यप्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा सीएजी की रिपोर्ट का या तो तथ्यात्मक विश्लेषण नहीं कर पाई या सीएजी की रिपोर्ट के तथ्य भाजपा नेताओं के पल्ले ही नही पड़े। भाजपा नेता आरोप लगा रहे कि राज्य के कुल राजस्व आय का 53 फीसदी हिस्सा केंद्र का है ।भाजपा नेता इस आरोप को लगाने के पहले इस तथ्य को भूलगये  की देश मे जीएसटी लागू होने के बाद राज्यो को मिलने वाले कुल टेक्स का बड़ा हिस्सा केंद्र के पास जाता है केंद्र उसको राज्यो को क्षतिपूर्ति के साथ वापस करता है ।यह छत्तीसगढ ही नही देश के सभी राज्यो के साथ होता है हास्यस्पद है भाजपाई इसमें भी मोदी सरकार की पीठ ठोक रहे है।

error: Content is protected !!