मछलीपालन के लिए भी कृषि जैसे ही मिलेगी सस्ती बिजली और बिना ब्याज के ऋण की सुविधा : भूपेश बघेल

०० अधिक से अधिक संख्या में मछुआ समुदाय के लोग भी उठाएं इन प्रावधानों का लाभ

०० मुख्यमंत्री श्री बघेल छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष और सदस्यों के पदभार ग्रहण कार्यक्रम में शामिल हुए

रायपुर| मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में मछलीपालन को कृषि का दर्जा दिया गया है। अब मछलीपालन के लिए भी कृषि जैसे ही सस्ती बिजली और बिना ब्याज के ऋण की सुविधा मिलेगी। इससे मछलीपालन करने वालों को लाभ होगा और जो अपनी कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण मछलीपालन नहीं कर पाते थे, वे भी मछलीपालन कर आय का साधन जुटा सकेंगे और आगे बढ़ेंगे। अधिक से अधिक संख्या में मछुआ समुदाय के लोग भी इन प्रावधानों का लाभ उठाने के लिए आगे आएं। कार्यक्रम में मछुआ कल्याण बोर्ड के नवनियुक्त उपाध्यक्ष राजेन्द्र धीवर की लोकप्रियता को देखते हुए बिलासपुर संभाग से समाज के अलावा उनके समर्थक एवं कार्यकर्ता भी बेलतरा, सीपत,मस्तूरी, तखतपुर, कोटा,रतनपुर, अकलतरा, बलौदा, सेंदरी,खम्हरिया,जांजी, पधी,बिटकुला, लुतरा, कुकदा, मचखण्डा, सेलर, खैरा डगनिया आदि स्थानों से भारी संख्या में श्री धीवर के समर्थक शामिल हुए|

मुख्यमंत्री ने आज यहां विधानसभा परिसर स्थित अपने कार्यालय कक्ष से छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष और सदस्यों के पदभार ग्रहण कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से सम्बोधित करते हुए इस आशय के विचार प्रकट किए। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री राजेन्द्र ढीमर, सदस्य सर्वश्री दिनेश फूटान, देव कुंवर निषाद, आर.एन. आदित्य, प्रभु मल्लाह, विजय ढीमर और श्रीमती अमृता निषाद, ने पदभार ग्रहण किया। इस अवसर पर बोर्ड के अध्यक्ष श्री एम.आर. निषाद, छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री शैलेश नितिन त्रिवेदी और पूर्व विधायक श्री दिलीप लहरिया भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के नवनियुक्त उपाध्यक्ष और सदस्यों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रदेश में उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक हर जिले में जहां नदी, तालाब, नाले हैं, वहां मछुआ समुदाय के लोग हैं। आदिकाल से ही मछुआ समुदाय के लोग मछलीपालन और बाड़ियों में सब्जी पैदा कर भरण-पोषण करते आए हैं। मछलीपालन के लिए तालाब और बांध समिति बनाकर दिए जाते हैं। कई बार मछुआ समुदाय के लोगों से जानकारी मिलती है कि मछलीपालन का काम उनके समाज के लोगों को नहीं मिल पाया है। या कई बार जब काम मिल भी जाता है तो समुदाय के लोग अपनी कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण मछलीपालन नहीं कर पाते हैं और मजबूरन उन्हें बड़े व्यापारियों की शरण में जाना पड़ता है। मछुआ समुदाय के लोगों को ऐसे में मात्र मजदूरी ही मिल पाती है। अब मछलीपालन के लिए कृषि के जैसे सहायता मिलने से मछुआ समाज के लोग भी मछलीपालन का काम आसानी से कर सकेंगे और उन्हें भी इस व्यवसाय का भरपूर लाभ मिल सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में मछलीपालन की अच्छी संभावनाएं हैं। यहां नदियों, तालाबों और नालों की कमी नहीं है। यहां बारिश भी अच्छी होती है, इन अनुकूल परिस्थितियों के साथ-साथ अब राज्य शासन द्वारा मछलीपालन के लिए दी जा रही सहायता का लाभ उठाने के लिए मछुआ समुदाय के अधिक से अधिक लोग आगे आएं।

किसानो-ग्रामीणों की हक़ के लिए संघर्षरत रहे है राजेन्द्र धीवर :- सीपत और बेलतरा क्षेत्र के उर्जावान जमीन से जुड़े कांग्रेस नेता व मछुआ कल्याण बोर्ड के नवनियुक्त उपाध्यक्ष राजेन्द्र धीवर लगातार क्षेत्रवासियों, किसानो, ग्रामीणों की हक़ के लिए संघर्षरत रहे है व उन्हें न्याय दिलाने की हरसंभव कोशिश में भी जुटे रहते है| एनटीपीसी प्रभावित सीपत क्षेत्र में किसानो को मुआवजा, बेरोजगारों को रोजगार दिलाने में हमेशा मदद करने वाले सीपत क्षेत्र के किसान, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष व सीपत सरपंच राजेन्द्र धीवर को कांग्रेस सरकार द्वारा मछुवा कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौपी है| धीवर केवल सीपत ही नही बल्कि बेलतरा विधानसभा क्षेत्र में उनका खासा लगाव हैं,राजनीतिक एवं सामाजिक रूप से बेलतरा क्षेत्र में राजेन्द्र धीवर काफी लोकप्रिय हैं, वहां के हर वर्ग और और समाज मे धीवर का एक विशेष लगाव हैं, बात चाहे किसानों की हो तो हमेशा उनके हित मे ततपर रहते है, जब कभी किसानों को खेत मे सिचाई के लिए पानी की कमी आती हैं, तो मंत्री अधिकारी से तत्काल मिलकर खूंटाघाट डेम से नहर के माध्यम से किसानों के खेत तक पानी पहुचाने के बाद ही दम लेते है, इनकी कड़ी मेहनत से सीपत में ब्लॉक मुख्यालय का लोगो को जल्द फायदे मिलेंगे, सांथ ही पर्यावरण प्रेमी होने के नाते धीवर द्वारा लगातार वृक्षारोपण भी करवाया जा रहा हैं, जिससे पर्यावरण स्वच्छ हो सांथ ही कांग्रेस के एक निष्ठावान कार्यकर्ता होने के नाते सरकार की तमाम महत्वाकांक्षी योजना को बेलतरा एवं सीपत क्षेत्र लोगो तक पहुंचा रहे हैं, श्री धीवर का कहना हैं कि भूपेश सरकार की सोच गरीब,किसानों और हर वर्ग के हित चाहने वालो की सरकार हैं उन्होंने ये भी कहा कि बेलतरा क्षेत्र वन और खनिज संपदा से भरा पूरा जगह हैं, बेलतरा विधानसभा क्षेत्र में वनों से भरा पूरा क्षेत्र हैं,अभी हमारी कांग्रेस की टीम अब डोर-टू डोर ग्रामीण क्षेत्र में उनका घर तक पहुच कर सरकार की तमाम योजनाओं से लाभान्वित किया जाएगा।

error: Content is protected !!