तेंदुए की खाल की तस्करी करते 2 कारोबारी गिरफ्तार

रायपुर। ग्राम टेमरी के पास वीआईपी रोड से पुलिस ने तेंदुए की खाल की तस्करी करते हुए 2 कारोबारियों को गिरफ्तार किया, आरोपी माना इलाके में खाल बेचने आए थे। मुखबिरों से सूचना मिलने के बाद पुलिस ने घेराबंदी करके इन्हें पकड़ा। आरोपियों से जब्त खाल की कीमत 10 लाख से ज्यादा आंकी गई है। दोनों ने रायपुर के एक कारोबारी से खाल खरीदने की बात कबूल की है।
पुलिस उस व्यक्ति की तलाश कर रही है, जिसने आरोपियों को खाल दिया। इस बीच, घटना की जानकारी मिलने के बाद रात में ही वन विभाग के अधिकारी भी जांच के लिए पहुंचे। पुलिस जांच कर रही है कि तेंदुए की खाल कहां से लाई गई है? आरोपियों ने खुद तेंदुआ को मारकर खाल निकाला है या फिर दूसरे राज्य से मंगाए हैं। माना पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ भारतीय वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि माना इलाके में तेंदुए की खाल के साथ सरसींवा के मनीष अग्रवाल और आनंद नगर, रायपुर के निखिल कुमार सिंह को गिरफ्तार किया। उनसे खाल को लेकर पूछताछ की जा रही है। दोनों खाल लेकर माना इलाके में घूम रहे थे। दोनों ने कोरिया के मनोज कुशवाहा उर्फ विक्रम से खाल खरीदना बताया। पुलिस उसकी तलाश की जा रही है।

error: Content is protected !!