संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने डॉ.खूबचंद बघेल व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर आधारित प्रदर्शनी का किया शुभारंभ

०० डॉ. बघेल द्वारा लिखित नाटक ‘‘गरकट्टा’’ का विमोचन किया

रायपुर| छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के प्रथम स्वप्नदृष्टागांधी विचारक तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी डॉ. खूबचंद बघेल की 121वीं जयंती के अवसर पर आज राजधानी रायपुर स्थित महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय के सभागार में जयंती समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत ने उनके व्यक्तित्व एंव कृतित्व पर आधारित प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। श्री भगत इस दौरान डॉ. बघेल द्वारा लिखित नाटक ‘‘गरकट्टा’’ का भी विमोचन किया।

नाटक का संपादन वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. सत्यभामा आडिल द्वारा की गयी है। डॉ. खूबचंद बघेल की जयंती समारोह में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल अपने निवास कार्यालय से वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री शैलेष नितिन त्रिवेदीअपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहूमुख्यमंत्री के सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशीसंस्कृति विभाग के सचिव श्री अन्बलगन पी.संचालक श्री विवेक आचार्यसाहित्यकार डॉ. परदेसी राम वर्मापं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. के एल वर्माडॉ. सत्यभामा आडिलडॉ. जागेश्वर प्रसादश्री छत्रपाल सिरमौरश्री शेषनारायण बघेलश्री अमित बघेलडॉॅ. विष्णु बघेलसहित डॉ. खूबचंद बघेल और डॉ. जगन्नाथ बघेल के परिजन एवं उत्तराधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का आयोजन पुरातत्व एवं संस्कृति विभाग द्वारा किया गया।

error: Content is protected !!