कलेक्टर के निर्देश पर जिला मुख्यालय में 17 दवाई दुकानों की औचक जांच 6 में मिली अनियमितताएं

जन औषधि केंद्र सहित कई दवा दुकानों में एक्सपायरी  दवाएं बरामद एक पैथोलॉजी लैब सील

ऐसानुल हक अंसारी

कोरिया। कलेक्टर श्याम धावड़े के निर्देश पर स्वास्थ्य सुविधाओं से जुड़े सभी पहलुओं में सुधार की कार्यवाही लगातार की जा रही है। गत दिवस मध्य रात्रि कलेक्टर  धावड़े द्वारा जिला अस्पताल के औचक निरीक्षण के दौरान बन्द पाए गए जन औषधि केन्द्र की विशेष जांच की गई। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  कुणाल दुदावत ने सहायक औषधि नियंत्रक के साथ जन औषधि केंद्र की जांच की। यहां अधिकांश दवाएं कालातीत पाई गईं जिस पर दवाओं को सील करते हुए केंद्र को विस्तृत जांच में लिया गया। इसके साथ ही कलेक्टर श्याम धावड़े के निर्देश पर जिला प्रशासन के अधिकारियों ने खाद्य एवं औषधि नियंत्रण विभाग की टीम के साथ जिला मुख्यालय बैकुंठपुर के सभी 17 मेडिकल स्टोर की जांच की। जांच के दौरान टीमों ने दवाइयों के उचित भंडारण, जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता, प्रतिबंधित दवाओं के विक्रय, दवाओं की बिक्री के रजिस्टर, कालातीत दवाओं के संधारण सहित अनेक बिंदुओं पर विस्तार से जांच की। जिन दुकानों में किसी भी विषय में अनियमितता पाई गई उसे जांच के दायरे में लेते हुए कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर दिया गया है। जांच टीम को मुख्यालय की 6 मेडिकल स्टोर में दवाओं के भंडारण, आवश्यक दस्तावेज के संधारण ना किए जाने के अलावा अन्य कई अनियमितताएं मिली हैं। जिसके सम्बन्ध में सभी को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया जा रहा है। सहायक औषधि नियंत्रक संजय नेताम ने बताया कि जांच टीम को शहर के बड़ेरिया मेडिकल स्टोर, बालाजी मेडिकल स्टोर, जीवनदीप मेडिकल स्टोर, लक्ष्मी मेडिकल स्टोर, सनजीवनी मेडिकल स्टोर और अजय मेडिकल में कमियां मिली हैं। इन सभी को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है।

error: Content is protected !!