परिवहन विभाग की ‘तुंहर सरकार तुंहर द्वार’ सुविधा : जून के एक माह में ही 14604 प्रमाण पत्र भेजे गए आवेदक के घर

०० आवेदक को घर बैठे मिल रहा 22 सेवाओं का लाभ

रायपुर| परिवहन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के मार्गदर्शन में प्रदेश में परिवहन विभाग की नई सुविधा ‘तुंहर सरकार तुंहर द्वार’ का कुशलतापूर्वक संचालन कर लोगों को परिवहन संबंधी 22 सेवाएं उनके घर के द्वार पर पहुंचाकर दी जा रही है। इसके तहत केवल जून के एक माह की अवधि में ही  14 हजार 604  स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण पत्र और ड्राइविंग लाइसेन्स आवेदकों के घर भेजे जा चुके हैं और 83 पंजीयन प्रमाण पत्र/ ड्राइविंग लाइसेन्स आवेदक के पते में उपलब्ध नहीं होने के वजह से वापस आए है । इस प्रकार 99% पंजीयन प्रमाण पत्र और ड्राइविंग लाइसेंस आवेदक के घर पहुँच रहे है और 1% से भी कम ड्राइविंग लाइसेन्स /पंजीयन प्रमाण पत्र वापस आ रहे है ।

इस संबंध में आयुक्त परिवहन श्री टोपेश्वर वर्मा ने बताया कि ‘तुंहर सरकार, तुंहर द्वार’ सेवा को और अधिक सुलभ बनाने के लिए विभाग द्वारा एक हेल्पलाईन नम्बर 75808-08030 जारी किया गया है, जो सभी कार्य दिवसों में प्रातः 10 बजे से शाम 5.30 बजे तक कार्य करते हुए जानकारी प्रदान करता है। आवेदक चाही गई जानकारी ई-मेल आईडी  cgparivahandispatch@gmail.com पर भी अपनी मेल भेजकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उक्त हेल्पलाइन नम्बर पर फोन करके आवेदक अपने ड्रायविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र के प्रेषण संबंधी समस्त जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। हेल्पलाइन नम्बर पर अभी औसतन प्रतिदिन 100-110 कॉल आ रहे हैं। जिसमें मुख्य रूप से ड्रायविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रक्रिया, टैक्स एवं फीस संबंधी जानकारी प्राप्त कर रहे हैं। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ सरकार की परिकल्पना ‘तुंहर सरकार तुंहर द्वार’ को साकार करते हुए परिवहन विभाग छत्तीसगढ़ ने एक जून से अपनी सेवाओं को उच्चतम स्तर पर ले जाते हुए समस्त ड्रायविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र को आवेदकों को उनके घर पर पहुंचाने का कार्य शुरू किया है। इस योजना का शुभारंभ विगत दिवस 01 जून को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के दिशा-निर्देश में परिवहन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के नेतृत्व में किया गया। अब आवेदकों को अपने ड्रायविंग लाइसेंस अथवा पंजीयन प्रमाण पत्र को लेने के लिए परिवहन कार्यालयों में चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। योजना के प्रारंभ होने से प्रदेश के अधिक से अधिक आम जनता लाभान्वित होगी एवं परिवहन विभाग की 22 से भी अधिक सेवाएं घर बैठे प्राप्त की जा सकेगी।

error: Content is protected !!