पेट्रोल डीजल रसोई गैस की बढ़ती कीमतों के लिए मोदी भाजपा की सरकार जिम्मेदारः कांग्रेस

०० पूर्व सरकार पर आरोप लगाकर पेट्रोल डीजल रसोई गैस के बढ़ते दामों की जिम्मेदारी से बच नहीं सकती मोदी सरकार

रायपुर। पेट्रोल डीजल के दामों में 32वी बार वृद्धि के लिए कांग्रेस ने मोदी भाजपा सरकार के गलतनीतियां को जिम्मेदार ठहराया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी भाजपा सरकार के द्वारा पेट्रोल-डीजल के दामों में लगाई गई बेतहाशा एक्साइज ड्यूटी और सेस के चलते देश के भीतर आम जनता को महंगे दरों पर डीजल और पेट्रोल खरीदना पड़ रहा है। इसका असर खाद्य सामग्रियों दवाइयों कपड़ा स्टेशनरी पड़ा है। कृषि लागत मूल्य में भी वृद्धि हो रही है। डीजल के दामों में वृद्धि के चलते माल ट्रांसपोर्टिंग एवं यात्री वाहन, बस, ऑटो, टेक्सी, कार का व्यवसाय प्रभावित हुआ है। जबकि अंतराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दामों में रोज गिरावट आ रही है लेकिन देश के भीतर पेट्रोल डीजल रसोई गैस के दामों में 4 मई के बाद अब तक 32 बार वृद्धि हुई ।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि देश के भीतर सस्ते दरों में पेट्रोल-डीजल रसोई गैस मिलने के पर्याप्त कारण है। क्योंकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में 2014 के पहले की तुलना में वर्तमान समय में क्रूड ऑयल की कीमतों में 40 से 45 प्रतिशत की कमी आई है। यूपीए सरकार के दौरान पेट्रोल में 350 रु. और डीजल में 3 रु. एक्साइज ड्यूटी लगता था, जिसे बढ़ाकर मोदी सरकार ने पेट्रोल में 33 रु. में डीजल में 32.50 रु. एक्साइज ड्यूटी लगाया है जिसके चलते देश में पेट्रोल डीजल के दामों में बढ़ोतरी हुई है। ठाकुर ने कहा कि पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों के लिए मोदी सरकार पूर्व सरकार पर आरोप लगाकर जिम्मेदारी से बच नहीं सकती । पेट्रोल डीजल के दामों में वृद्धि के लिए यूपी सरकार के दौरान लिए गये 1 लाख 4 हजार करोड का ऑयल बांड को जिम्मेदार ठहराने का बहाना नही चलेगा। मोदी सरकार पेट्रोल डीजल मे बढाई गई टेक्स की जिम्मेदारी से बच नही सकती बीते 7 साल में मोदी सरकार ने पेट्रोल डीजल के दामों में बेतहाशा मूल्य वृद्धि कर अब तक 22 लाख करोड रुपए से अधिक की मुनाफा अर्जित की है। ठाकुर ने भाजपा नेताओं पर तंज कसते हुए पूछा डॉ. रमन सिंह को बताना चाहिए यूपीए सरकार के दौरान 68 रु. लीटर मिलने वाला पेट्रोल महंगा था या वर्तमान में मोदी सरकार के द्वारा बेची जा रही 100 रु. लीटर की पेट्रोल महगी है ? केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह एवं सरोज पांडे को बताना चाहिए यूपीए सरकार के दौरान मिलने वाला 400 रु. प्रति सिलेंडर रसोई गैस महंगी थी या अभी मिल रहा 900 रु. का रसोई गैस महंगा है?

error: Content is protected !!