पुलिस नक्सली मुठभेड़ में 5 लाख का ईनामी नक्सली ढेर, डीआरजी ने शव सहित हथियार भी किया बरामद

रायपुर| नक्सलियों के खिलाफ जून से शुरू हुए ऑपरेशन मानसून के तहत रविवार को दंतेवाड़ा पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। दंतेवाड़ा व सुकमा जिले की सरहद पर स्थित पोरदेम के जंगल में हुई पुलिस नक्सली मुठभेड़ में DRG ने एक इनामी नक्सली को ढेर कर दिया है। मारा गया नक्सल मलांगिर एरिया कमेटी मेंबर संतोष मरकाम है। इस पर 5 लाख रुपए का इनाम भी घोषित था। बताया जा रहा है संतोष नीलावाया की नक्सल घटना का मास्टरमाइंड था।

दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर थाना क्षेत्र के सुकमा व दंतेवाड़ा की सरहद पर स्थित नक्सलगढ़ पोरदेम के जंगलों में हार्डकोर इनामी नक्सली जयलाल, राजेश, मुकेश समेत अन्य हथियारबंद माओवादियों की मौजूदगी की पुख्ता सूचना दंतेवाड़ा पुलिस को मिली थी। SP डॉ अभिषेक पल्लव के निर्देश पर DRG के जवानों को इलाके में सर्चिंग के लिए रविवार की सुबह निकाला गया था। यहां दोपहर लगभग साढ़े 12 बजे नक्सलियों के साथ मुठभेड़ हुई।करीब एक घंटे चली मुठभेड़ में DRG के जवानों ने मलांगिर एरिया कमेटी मेंबर 5 लाख रुपए के इनामी नक्सली संतोष मरकाम को ढेर कर दिया। जवानों को भारी पड़ता देख बाकी नक्सली घने जंगल का सहारा लेकर भाग गए। मुठभेड़ के बाद जवानों ने घटना स्थल की सर्चिंग की, जिसमें नक्सली का शव ,1 पिस्तौल, पिठ्ठू समेत भारी मात्रा में दैनिक उपयोग के सामान भी बरामद किए गए हैं। दंतेवाड़ा SP डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि 2018 में विधानसभा चुनाव के समय नीलावाया में नक्सलियों ने एंबुश लगाकर हमला किया था। इस घटना में एक मीडियाकर्मी समेत 3 जवान शहीद हुए थे। मलांगिर एरिया कमेटी मेंबर संतोष मरकाम इस घटना का मास्टर माइंड था। इसके अलावा अरनपुर थाने में हार्डकोर नक्सली संतोष के खिलाफ 25 से ज्यादा नामजद अपराध भी पंजीबद्ध है। DRG जवानों ने संतोष को ढेर कर दिया है,यह दंतेवाड़ा पुलिस की बड़ी कामयाबी है।

error: Content is protected !!