वट पूर्णिमा, स्नान पूर्णिमा तथा संत कबीर जयंती के अभूतपूर्व संयोग में ग्रीन केयर सोसाइटी ने किया बरगद पौधारोपण

गीदम/दांतेवाड़ा| इस वर्ष 24 जून को वट पूर्णिमा, महाप्रभु जगन्नाथ स्नान पूर्णिमा एवं संत कबीरदास जयंती का अभूतपूर्व संयोग बना। ग्रीन केयर सोसायटी इंडिया जो विगत 20 वर्षों से पौधारोपण और पर्यावरण संरक्षण जन जागरूकता के लिए सतत कार्य कर रही है तथा विगत 2 वर्षों से यूनाइटेड नेशंस एनवायरनमेंट प्रोग्राम के साथ जुड़कर कार्य कर रही है। इसी को कायम रखते हुए बरगद पौधारोपण किया गया। ग्रीन केयर सोसाइटी इंडिया के अध्यक्ष विश्वनाथ पाणिग्रही के मार्गदर्शन में महासमुंद जिले के सरायपाली विकासखंड के अंतर्गत ग्राम बैतारी में पंडित टिकेश्वर मिश्रा के नेतृत्व में बच्चों ने बरगद पौधारोपण किया।

संस्था के वरिष्ठ पदाधिकारी अमुजुरी बिश्वनाथ के नेतृत्व में दंतेवाड़ा जिले के गीदम विकासखंड के अंतर्गत ग्राम जावंगा में, बागबाहरा के ग्राम टेडी नारा गांजर में छत्तीसगढ़ी कवि गोवर्धनलाल बघेल के नेतृत्व में महिलाएं बिसहतबाई दीवान, अमृतबाई दीवान, पद्मनीबाई यादव, मीनाबाई बघेल और रूपेश गोयल ने प्रतिभा पब्लिक स्कूल में बरगद पौधारोपण किया। इस अवसर पर संस्था प्रमुखों और सदस्यों ने वर्चुअल कार्यक्रम में जुड़े और शिक्षक अमुजुरी बिश्वनाथ ने महान संत कबीर दास जी के अनेक दोहों का उल्लेख करते हुए कहा संत कबीर जी की हर बात सर्व कालिक सत्य एवं सार्थक है और हमें ऐसे महत्व के अवसरों पर निश्चितइसके साथ हर व्यक्ति को पौधा लगाने एवं संरक्षण करने आगे आएं। विश्वनाथ पाणिग्रही ने बताए कि यह दिन अखंड सौभाग्य एवं सुख शांति प्रदाता वट वृक्ष का अलग महत्व है, इसलिए हमने स्थान स्थान पर वट वृक्ष पौधारोपण कर रहे हैं तथा इस कड़ी में बामनसरा (कोमाखान क्षेत्र) स्थित 400 वर्षीय उम्रदराज वट वृक्ष को संरक्षित करने तथा पर्यटन में जोड़ने की शासन से पुनः मांग करते हैं । इस कार्यक्रम में डॉ विकास अग्रवाल, विष्णु महानंद, विजय शर्मा, ईश्वरी प्रसाद नायक, कुणाल सिंह सेनापति ने हिस्सा लिया।

error: Content is protected !!