स्थानीय प्रतिनिधियों ने की पंचायत व प्रभारी मंत्री से शिकायत, जिला पंचायत सभापति गौरहा ने बताया, “जर्जर सड़क से दर्जनों की मौत..फिर भी नहीं सुन रहे अधिकारी”

०० स्थानीय जन प्रतिनिधि और गणमान्य नागरिकों ने जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा, पूर्व विधायक दिलीप लहरिया, कांग्रेस नेता संतोष दुबे ,ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष नागेंद्र राय के साथ रायपुर में पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव और प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू से मुलाकात की

बिलासपुर| मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के धूमा,मानिकपुर सिलपहरी व ढेंका के स्थानीय जन प्रतिनिधि और गणमान्य नागरिकों ने जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा,पूर्व विधायक दिलीप लहरिया,कांग्रेस नेता संतोष दुबे,ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष नागेंद्र राय के साथ रायपुर में पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव और प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू से मुलाकात की। नाराज ग्रामीणों ने क्षेत्र में सड़क की दुर्दशा की जानकारी से अवगत कराते हुए बताया कि कई बार प्रयास किए जाने के बाद भी पीडब्लूडी विभाग से केवल प्रस्ताव व आश्वासन ही मिला है।

जिला पंचायत सभापति व जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष अंकित गौरहा ने बताया की बिल्हा ब्लाक के ग्राम पंचायत धूमा सिलपहरी मानिकपुरी व ढेका में लोक निर्माण विभाग के जर्जर सड़क की समस्या से ग्रामीण त्रस्त है और लगातार दुर्घटनाए हो रही है इसी संबंध में आज ग्रामीणों और स्थानीय जन प्रतिनिधियों ने रायपुर में मंत्री टीएस सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू से मुलाकात की ग्रामीणों ने लिखित में अपनी शिकायत को पेश किया और बताया कि क्षेत्र की सड़कें बद से बदतर स्थिति में है वाहन का चलना तो दूर..पैदल चलना मुश्किल हो गया है। पूर्व विधायक लहरिया ने बताया कि इस क्षेत्र से वाहनों का सर्वाधिक आना जाना होता है। दुर्घटनाओं का होना सामान्य बात है। अब तक दर्जनों लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा है। सड़क निर्माण और मरम्मत को लेकर कई बार नाराज ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया। लेकिन हर बार पीडब्लूडी विभाग से आश्वासन ही मिला है। जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा,पूर्व विधायक दिलीप लहरिया,कांग्रेस नेता संतोष दुबे,ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष नागेंद्र राय के लगातार प्रयास के बाद भी कार्यपालन अभियंता ने सड़क निर्माण को लेकर अधीक्षण अभियंता को प्रस्ताव भेजा था जिसके बाद राज्य सरकार के बजट में शामिल होने बावजुद आज तक निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं हो पाया है। गौरहा ने बताया कि पंचायत मत्री और लोकनिर्माण विभाग मंत्री ने ग्रामीणों की मांग और शिकायत को गंभीरता से लिया है। दोनों मंत्रियों ने आXश्वासन दिया है कि अब शिकायत का मौका नहीं दिया जाएगा। जल्द ही विभाग के अधिकारियों से बातचीत कर सड़क निर्माण कार्य का आदेश दिया जाएगा।

error: Content is protected !!