कोविड टीकाकरण अभियान के प्रति भ्रांति रोकना सामाजिक जिम्मेदारी : डॉ. प्रज्ञा कौशिक

आरओबी रायपुरपीआईबी रायपुर व एफओबी बिलासपुर के वेबिनार में अतिथि वक्ताओं का उद्बोधन

भ्रांति निवारण विशेषज्ञ डॉ. प्रज्ञा कौशिकआईएमए बिलासपुर के अध्यक्ष डॉ. अविजित रायजादा व डॉ.  रजनीश पांडेय रहे अतिथि 

रायपुर| भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अधीनस्थ प्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय (आरओबी)पत्र सूचना कार्यालय रायपुर एवं क्षेत्रीय लोकसंपर्क कार्यालय (एफओबी) बिलासपुर द्वारा कोविड टीकाकरण अभियान को लेकर कोविड टीकाकरण अभियानः भ्राँतियां एवं निवारण‘ विषयक जनजागरूकता वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार मे भ्रांति निवारण विशेषज्ञ सह स्वतंत्र मीडिया शिक्षाविद् डॉ. प्रज्ञा कौशिकआईएमए बिलासपुर के प्रमुख डॉ. अविजित रायजादा व प्रथम हास्पीटल बिलासपुर के चिकित्सक डॉ. रजनीश पांडेय बतौर अतिथि वक्ता रहे।

 भ्रांति निवारण विशेषज्ञ डॉ. प्रज्ञा कौशिक ने कहा कि सभी का लक्ष्य है दुनिया को कोविड से मुक्त करना। लेकिन इसमें सबसे बड़ी बाधा भ्रांति फैलने से आती है। लोग कोविड टीकाकरण को लेकर तरह-तरह के भ्रम में रहते हैं। इसी भ्रम की वजह से पढ़े-लिखे व समझदार लोग भी कोविड वैक्सीन लेने में झिझकते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन के बारे में सूचना लेने से पहले हमें सोचना चाहिए हमें किस पर भरोसा करना हैहम किसी गलत सूचना का शिकार तो नहीं हो रहे। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के प्रति भ्रांति रोकना पूरे समाज की जिम्मेदारी है तभी यह दुनिया का सबसे बड़ा अभियान सफल हो पाएगा। डॉ. प्रज्ञा ने वैक्सीनेशन को लेकर विविध प्रकार की प्रचलित भ्रांतियां व उसकी खामियों के बारे में प्रतिभागियों को जानकारी दी। आईएमए बिलासपुर के अध्यक्ष डॉ. अविजित रायजादा ने अपना उदाहरण देते हुए कहा कि कोविड वैक्सीन लेने की वजह से ही वे दूसरी लहर के दौरान कोविड के मरीजों की डट कर सेवा कर पाए। उन्होंने बिलासपुर के चिकित्साकर्मियों का उदाहरण देते हुए कहा कि कोविड वैक्सीन लेने की वजह से किसी भी चिकित्साकर्मी को गंभीर परिस्थिति का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने विदेशी वैक्सीन को बेहतर समझने वाले लोगों को भारतीय वैक्सीन के विशेषताओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान सभी को जीने का अधिकार देता है। इसी के तहत भारत सरकार सभी को मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध करवा रही है। हमें भी किसी भी प्रकार की भ्रांति में न पड़कर वैक्सीन लगवाना चाहिए। जो भी वैक्सीन है बिल्कुल सुरक्षित है व हमारे हित में है। कोरोना महामारी के दौरान सैकड़ों कोविड मरीजों की सेवा करने वाले चिकित्सक डॉ. रजनीश पांडेय ने उपचार के दौरान आने वाली भ्रांतियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि लोगों को झाड़-फूंक व बैगा आदि पर ज्यादा भरोसा होता है। उन्होंने लोगों को बिना संकोच वैक्सीन लेने व वैक्सीन लेने के बाद भी कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाने की सलाह दी। वेबिनार का संचालन प्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय के प्रमुख शैलेष फाये ने किया। उन्होंने सभी से कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाने व उपलब्धता के आधार कोविड वैक्सीन लेने की अपील की। वेबिनार में आरंभिक वक्तव्य पत्र सूचना कार्यालय रायपुर के निदेशक कृपाशंकर यादव ने दिया। वेबिनार में पत्र सूचना कार्यालय रायपुर के सहायक निदेशक सुनील तिवारीआकाशवाणी के आरएनयू प्रमुख विकल्प शुक्लाप्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय रायपुर से संबद्ध क्षेत्रीय लोकसंपर्क कार्यालय बिलासपुरजगदलपुरअंबिकापुरदुर्गबालाघाट व कांकेर के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों विद्यार्थियों शिक्षाविदों और गैर सरकारी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। आभार प्रदर्शन बिलासपुर के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी डॉ. प्रेम कुमार ने किया ।

error: Content is protected !!