कांग्रेस का महंगाई विरोधी आंदोलन एक निरर्थक राजनीतिक ढोंग से अधिक कुछ नहीं : श्रीवास्तव

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने शुक्रवार को कांग्रेस द्वारा बढ़ती कींमतों को लेकर किए गए धरना-प्रदर्शन को पूरी तरह विफल बताते हुए कहा है कि कांग्रेस अपने ढाई साल के आधे कार्यकाल खत्म होने के बावजूद राज्य सरकार के सभी मोर्चे में विफल रहने के कारण जनता का ध्यान भटकाने के लिए और अपने राजनीतिक वज़ूद को बचाए रखने के लिए झूठ और भ्रम फैलाने को विवश है।

श्रीवास्तव ने कहा कि केंद्र सरकार से कोविड वैक्सीनेशन के मुद्दे पर मुँह की खाने,  प्रदेश के अन्नदाता किसान की मेहनत को बारिश में भीगने से ना बचा पाने और प्रदेश में लगातार हो रहे सामूहिक हत्या और आत्महत्या में नागरिकों की सुरक्षा में  अपनी प्रदेश सरकार का नाकारापन ज़ाहिर होने के बाद बौखलाए कांग्रेस नेता अब टूलकिट एजेंडे के मुताबिक़ महंगाई को लेकर अपने सफ़ेद झूठ के सहारे फिर भ्रम फैलाने और केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ प्रलाप करने लगे हैं। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस का महंगाई विरोधी आंदोलन एक निरर्थक राजनीतिक ढोंग से अधिक कुछ नहीं है। कांग्रेसियों को तो यूपीए का शासन काल याद करना चाहिए जब ,महंगाई हटाने का नारा देकर सत्ता में आयी यूपीए सरकार में महंगाई 178% बढ़ गए थी।  परंतु इस विपरीत परिस्थिति में जब  संयुक्त राष्ट्र संघ का फ़ूड इंडेक्स वैश्विक महंगाई की दर बढ़ी होने का संकेत दे रही है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने महंगाई को अपने नियंत्रण में रखा है। डीज़ल-पेट्रोल के दामों पर हायतौबा मचा रहे कांग्रेस के नेता अपनी प्रदेश सरकार से भाजपा की पूर्ववर्ती प्रदेश सरकार द्वारा दिये राहत की तरह अपने नेताओं से कहकर राज्य के हिस्से के टैक्स में कटौती करके छत्तीसगढ़ की जनता को राहत प्रदान करें।

error: Content is protected !!