मां ने 5 बेटियों सहित ट्रेन से कटकर दी जान, शराबी पति से विवाद के बाद महिला ने यह कदम उठाया

०० मरने वाले सभी बच्चों की उम्र 10 से 18 साल के बीच, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

रायपुर| महासमुंद में एक महिला ने अपनी 5 बेटियों के साथ बुधवार देर रात ट्रेन के सामने कूदकर खुदकुशी कर ली। सभी के शव गुरुवार सुबह रेलवे ट्रैक पर 50 मीटर दूर तक बिखरे पड़े मिले हैं। मरने वाले सभी बच्चों की उम्र 10 से 18 साल के बीच है। बताया जा रहा है कि शराबी पति से विवाद होने के बाद महिला ने ऐसा कदम उठाया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई है।

जानकारी के मुताबिक, जिले के इमलीभांठा नहर पुलिया के पास गुरुवार सुबह लोगों ने रेलवे ट्रैक पर शव पड़े देखे तो कोतवाली थाना पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। रेलवे को भी इसकी जानकारी दी गई और ट्रेनों की आवाजाही को रोका गया है। बेमचा निवासी महिला उमा साहू (45) का पति केजराम शराब पीने का आदी है। वह बुधवार शाम को भी शराब पीकर घर पहुंचा तो पति-पत्नी के बीच विवाद शुरू हो गया। बात इतनी ज्यादा बढ़ गई कि उमा शाम करीब 7.30 बजे अपनी पांचों बेटियों अन्नपूर्णा (18), यशोदा (16), भूमिका (14), कुमकुम (12) और तुलसी (10) को लेकर घर से निकल गई। इसके बाद से उनका कुछ पता नहीं था। बताया जा रहा है कि रात करीब 9 से 9.30 बजे के बीच लिंक एक्सप्रेस के सामने सभी ने एकसाथ कूदकर जान दे दी। पुलिस का कहना है कि घटना देर रात हुई होगी। महिला और तीन लड़कियों के शव थोड़ी दूरी पर मिले, जबकि दो अन्य लड़कियों के शव ट्रैक पर आगे पड़े मिले हैं। शवों के साथ उनकी चप्पलें भी दूर तक बिखरी हुई थीं। पुलिस का कहना है कि आसपास के लोगों से पूछताछ की गई है, जिसके बाद महिला और उसकी बेटियों की पहचान हो गई है।

खुदकुशी पर राजनीति तेज़ :- नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जब से कांग्रेस की सरकार बनी है, परिवार के परिवार आत्महत्याएं कर रहे हैं। ऐसी घटनाएं प्रदेश के लिए ठीक नहीं हैं। बहुत सारी घटनाएं प्रदेश में आर्थिक तंगी और शराब के नाम से हो रही हैं। इसके बारे में सरकार को सोचना चाहिए। मामले की जांच के लिए भाजपा की और से प्रतिनिधि मंडल भेजने की बात कही गई है। यह प्रतिनिधि मंडल मामले की जांच कर अपनी रिपोर्ट पार्टी को सौंपेगा। पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा एक परिवार के 6 लोग की मौत होना जांच का विषय है। उस परिवार को आर्थिक सहायता दी जाए।

मुख्यमंत्री ने घटना पर जताया दुख :- घटना पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि महिला और पांच बच्चियों की मृत्यु की खबर बहुत ही दुखद है। जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन को इस पूरी घटना की जांच कर आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

error: Content is protected !!