कांग्रेस का देशव्यापी प्रदेशव्यापी धरना प्रर्दशन कल 

कोविड प्रोटोकाल का कड़ाई से किया जायेगा पालन

जनता के दुख तकलीफ से बेपरवाह मोदी सरकार लोगो पर डाल रही है बोझ

पेट्रोल-डीजल की मूल्य वृद्धि में रोज बढ़ोत्तरी से बढ़ रही मंहगाई

रायपुर। पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ और ईंधन की कीमतों में की गई इस बढ़ोतरी को वापस लेने की मांग को लेकर कांग्रेस 11 जून, 2021 को पूरे देश में पेट्रोल पंपों के सामने प्रतिकात्मक विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लियाहै। इन सांकेतिक विरोध प्रदर्शनों के दौरान पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस की कीमतों में हो रही निरंतर वृद्धि, अभूतपूर्व आर्थिक मंदी, बढ़ती बेरोजगारी और सभी जरुरी वस्तुओं की आसमान छूती कीमतों से आम जनता को हो रही परेशानियों की तरफ ध्यान आकर्षित किया जाएगा।

पेट्रोल-डीजल मूल्य दर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि केन्द्र की भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण देश के लोग पिछले 15 महीने से कोविड 19 की मार से जूझ रहे हैं, जिसमें उन्हें एक तरफ तो सही समय पर दवाई और स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिली, दूसरी तरफ गिरती अर्थव्यवस्था और घटते रोजगारों के बावजूद केन्द्र सरकार द्वारा आम नागरिकों को कोई आर्थिक सहायता ना दिए जाने के कारण आर्थिक परेशानियां झेल रहे हैं। इस सबके बावजूद जनता की दुख-तकलीफ से बिल्कुल बेपरवाह भाजपा सरकार देश के नागरिकों पर पेट्रोल व डीजल के मूल्यों में हर रोज बढ़ोतरी करके महंगाई का बोझ डाल रही हैं। भाजपा सरकार ने पिछले 7 साल में पेट्रोल व डीजल के टैक्सों में बार-बार भारी बढ़ोतरी करके पेट्रोल व डीजल की कीमतों को रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा दिया है। भाजपा सरकार द्वारा कांग्रेस सरकार की तुलना में पेट्रोल पर 23 रुपए 87 पैसे प्रति लीटर और डीजल पर 28 रुपए 37 पैसे प्रति लीटर की दर से टैक्सों में बढ़ोतरी की गई है। इन्हीं गलत नीतियों और भारी भरकम टैक्सों के कारण देश के कई हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें आज 100 रुपए प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर चुकी हैं और डीजल की कीमतें 100 रुपए प्रति लीटर होने की कगार पर हैं। सभी जानते हैं कि पेट्रोल-डीजल की महंगाई का असर सभी प्रकार की वस्तुओं पर पड़ता है और उन्हें महंगा बनाता है, जिससे आज देश का हर व्यक्ति महंगाई से त्रस्त है। भाजपा सरकार की गलत प्राथमिकताओं और जनविरोधी नीतियों का अंदाजा भी इस बात से लगाया जा सकता है कि कोरोना महामारी के पिछले 13 माह में ही पेट्रोल और डीजल की कीमतों में क्रमशः 25 रुपए 97 पैसे और 24 रुपए 18 पैसे की अभूतपूर्व बढ़ोतरी की गई है। वर्ष 2021 के 5 माह में ही पेट्रोल-डीजल में 44 बार बढ़ोतरी की गई है, जो केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा जनता से लूट का जीता-जागता उदाहरण है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने जानकारी दी है कि ये सांकेतिक विरोध प्रदर्शन पूरे छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी की स्थानीय इकाइयों द्वारा विभिन्न इलाकों के स्थानीय, जिला और राज्य प्रशासन द्वारा निर्धारित कोविड-19 प्रोटोकॉल का कठोरता से पालन करते हुए आयोजित किए जाएंगे। कोविड प्रदर्शन के समय जनसभाएं आयोजित नहीं होंगी और पार्टी नेताओं द्वारा पूरे समय मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित की जाएगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम शास्त्री चौक स्थित पेट्रोल पंम्प में बैठकर धरना प्रदर्शन करेंगे।

error: Content is protected !!