नक्सलियो का जनपितुरी सप्ताह : नक्सली जवानों को लगातार कर रहे तारगेट, दंतेवाड़ा में कई जगह काट दी सड़कें

०० सुकमा में जवानों को नुकसान पहुंचाने निर्माणाधीन सड़क पर प्लांट किया पाइप बम के जरिए आईईडी

०० बीजापुर में सरेंडर कर चुके नक्सली को अगवा कर ले गए माओवादी

रायपुर| प्रदेश में नक्सली 5 जून से जनपितुरी सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान लगातार जवानों को टारगेट किया जा रहा है। सुकमा में जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए निर्माणाधीन सड़क पर पाइप बम के जरिए आईईडी प्लांट किया, वहीं दंतेवाड़ा में कई जगह सड़कें काट दी हैं। हालांकि जवानों ने बम बरामद कर उसे डिफ्यूज कर दिया। दूसरी ओर बीजापुर में एक सरेंडर कर चुके नक्सली को भी अगवा कर ले गए हैं।

जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र चिंतागुफा-भेज्जी इलाके में पिछले कई दिनों से सड़क निर्माण का काम चल रहा है। सुरक्षा के लिए रोजाना सैकड़ो जवानों की तैनाती रहती है। इसे देखते हुए नक्सलियों ने वहां बम प्लांट किया था। सीआरपीएफ जवानों ने बरामद किया और मौके पर ही बम डिफ्यूज कर दिया। बताया जा रहा है कि चिन्तागुफा-भेज्जी इलाके में निर्माणाधीन सड़क पर नक्सलियों ने दर्जनों आईईडी प्लांट कर रखे हैं। इलाके में फोर्स का मूवमेंट भी बढ़ा है।दंतेवाड़ा में अरनपुर-पोटाली सड़क को दर्जनों जगह से काट कर मार्ग को बाधित कर दिया है। साथ ही इलाके में कई जगह बैनर-पोस्टर भी लगाए हैं। जिले में ज्यादातर नक्सली रेलवे ट्रैक को भी अपना निशाना बनाते हैं। ऐसे में ट्रैक की सुरक्षा बढ़ाई गई है। इससे पहले लोन वर्राटू अभियान के चलते बड़े नक्सली लीडर बैक फुट पर हैं। हालांकि छोटे कैडर के नक्सली अब भी इलाके में सक्रिय हैं। जिनसे लगातार खतरा बना रहता है।वहीं बीजापुर में नक्सलियों ने अपने ही सरेंडर करने वाले साथी को अगवा कर लिया है। उसका अभी तक पता नहीं चल सका है। बताया जा रहा है कि रामा कृष्णा ने जनवरी में सरेंडर किया था। इसके बाद बासागुड़ा क्षेत्र के कोरसागुड़ा गांव में अपने परिवार के साथ रह रहा था। नक्सलियों को इसकी जानकारी लगी और तो एक दिन पहले रामा को नक्सली उसके घर से उठा कर ले गए।

error: Content is protected !!