विश्व पर्यावरण दिवस पर पारिस्थितिकी तंत्र पुनःस्थापन अभियान की ग्रीन केयर सोसाइटी ने किया शुरुआत

०० शिक्षक अमुजुरि बिश्वनाथ ने पौधारोपण कर पर्यवारण संरक्षण हरियाली फैलाने का दिया संदेश

गीदम/दांतेवाड़ा| विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर ग्रीन केयर सोसायटी इंडिया दांतेवाड़ा छत्तीसगढ़ ने संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम संस्था के साथ पंजीकृत कर विभिन्न कार्यक्रमों केलिए सहमति प्राप्त किया है। वर्ष 2021-22 के कार्यक्रमों में “पारिस्थितिकी तंत्र पुनःकल्पना पुनर्निर्मित पुनःस्थापना” विषय पर ग्रीन केयर सोसायटी इंडिया ने एपीजे अब्दुल कलाम इंटरनेशनल फाउंडेशन रामेश्वरम तमिलनाडु, वर्ल्ड एनवायरनमेंट काउंसिल महाराष्ट्र और कम्युनिटी वेलफेयर फाउंडेशन महाराष्ट्र के सहभागिता से पर्यावरण संरक्षण और संवर्धन पर कार्यक्रम चालू किया है।

ग्रीन केयर अध्यक्ष विश्वनाथ पाणिग्रही ने कहा कि पर्यावरणविद सुंदरलाल बहुगुणा जी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके स्मृति में तथा चिपको आंदोलन के तर्जपर पर्यावरण संरक्षण व हरियाली बचाओ अभियान शुरू किया है। दंतेवाड़ा जिले गीदम से संस्था के वरिष्ठ पदाधिकारी तथा शिक्षक अमुजुरि बिश्वनाथ, ईश्वरी प्रसाद नायक, रुद्र विजय उदगिररवार ने पौधारोपण किया और पर्यवारण संसक्षण हरियाली फैलाने की संदेश दिया। बिश्वनाथ ने बताया कि विश्व माहामारी कोरोना के समय में प्राणवायु ऑक्सीजन की बहुत ही आवश्यकता हुई, इसलिए सभी घर घर में पौधारोपण कीजिए और पर्यावरण संतुलन बनाए रखने की अपील किया। इस वर्ष के कार्यक्रम की शुरुवात विश्व पर्यावरण दिवस पर चिपको आंदोलन तर्जपर तथा अनेक स्थानों में पौधरोपण कर वर्चुअल जागरुकता अभियान किया गया। आनलाइन कार्यक्रम का पूर्ण संचालन अमुजुरि बिश्वनाथ ने संचालित किया। इस कार्यकर्म में गीदम से ईश्वरी प्रसाद नायक, कुणाल सिंह सेनापति, कोमाखान से विजय शर्मा, टेडीनारा गांजर से गोवर्धन लाल बघेल, बैतारि से पंडित टिकेश्वर मिश्रा, तेंदूकोना से पंडित भागीरथी दुबे, मोहगांव से योगेश बढ़ाई, ने पौधारोपण सहित पर्यावरण जन जागरण किया। ग्रीन केयर सोसाइटी इंडिया द्वारा महासमुंद जिले के ग्राम बामनसरा में स्थित 400 वर्षीय उम्रदराज वट वृक्ष से लिपटकर चिपको आंदोलन कर शासन को इस वृक्ष को संरक्षित कर इसे पर्यटन में जोड़ने का संदेश दिया । संस्था के वरिष्ठ सदस्य विजय शर्मा के नेतृत्व में ग्राम वासी नीरज यादव, देवलाल, रिखिरम पटेल, भुवनेश्वर साहू, आशकुमार ठाकुर, हरीश यादव ने चिपको आंदोलन में सहभागिता दिया।

error: Content is protected !!