केंद्र के खिलाफ ब्लेक डे मनाए भारतीय जनता युवा मोर्चा : कांग्रेस

०० कोरोना काल में भाजपाई बेशर्मी के सारे रिकार्ड तोडटे जा रहे

०० वैक्सीन के मामले में कौशिक वृजमोहन अजय चंद्राकर सहित सारे नेता झूठ की खेती कर रहे

रायपुर। कांग्रेस ने कहा कि भाजपा वैक्सीन को ले कर वास्तव में गम्भीर है तो उसे केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर ब्लेक डे मनाना चाहिये। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि राज्य सरकार तो प्रदेश के 18 वर्ष से अधिक आयु के हर नागरिक को मुफ्त कोरोना का टीका लगवाना चाहती है इस हेतु मुख्यमंत्री ने स्पष्ट घोषणा भी किया है ।केंद्र सरकार राज्य को वैक्सीन दिलवाने में मदद नही कर रहा इसलिए टीकाकरण में  दिक्कते पैदा हो रही है । राज्यो को उनकी जरूरत के हिसाब से टीका मिल सके यह जबाबदारी केंद्र की मोदी सरकार की है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 मई से देश भर टीकाकरण की घोषणा कर अपने कर्तब्य की इतिश्री समझ लिया ।राज्यो को वैक्सीन कम्पनियां कब कैसे किस आधार पर टीका देगी केंद्र सरकार ने इसकी कोई कार्य योजना नही बनाई इस कारण देश भर में टीकाकरण में परेशानी पैदा हो रही है। अपनी केंद्र सरकार को वैक्सीन उपलब्ध करने दबाव बनाने के बजाय भाजपाई बेशर्मी पूर्वक राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे है। भाजपाई सोच रहे है कि प्रदर्शन की नौतन्की कर के वे राज्य की जनता के सामने मोदी सरकार की विफलता को छुपा लेगे लेकिन राज्य की जनता भली भांति जान रही कि केंद्र के द्वारा वैक्सीन नही दिलवा पाने के कारण ही प्रदेश में टीका करण बाधित हुआ है।

   प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि वैक्सीन को ले कर भारतीय जनता पार्टी के सारे नेता लगातार गलत बयानी कर के झूठ की खेती करना चाह रहे हैं ।भाजपा नेता बयान दे कर झूठ बोल रहे की राज्य ने टीको के लिए ऑर्डर नही दिया जबकि राज्य सरकार ने 75लाख वैक्सीन के लिए ऑर्डर दोनों कम्पनियों को  बकायदा मेल द्वारा 26 अप्रेल को कर दिया है ।तथा दोनों ही कम्पनियों के जबाबदार अधिकारियो से चर्चा भी किया गया । एक कम्पनी भारत बायोटेक के द्वारा कुल कोवेक्सिन के 1.5 लाख डोज देने की सहमति मिली जिसका भुगतान 6.30 करोड़ रु का भुगतान किया जा चुका है। दूसरी वैक्सीन कोविशिल्ड की  कम्पनी सीरम ने 2.90लाख डोज देने की सहमति दी है उसको भी 9 करोड़ 35 लाख का भुगतान  दिया जा चुका है।  कम्पनियों के द्वारा राज्य को उसकी आवस्यकता के अनुरूप वैक्सीन दिलवाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को तीन पत्र भी लिखा है जिनका कोई जबाब नही आया ।इसके बाद भी भाजपा के वरिष्ठ नेता झूठ बोल कर गलत बयान दे कर केंद्र का बेशर्मी पूर्वक बचाव कर रहे जबकी छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश मे टीको की कमी की असली जबाबदार मोदी सरकार की अकर्मण्यता है। मोदी सरकार के द्वारा पूरे टीके नही दिलवाने के कारण जब तक पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन न मिल जाय तब तक  राज्य ने टीको के सुचारू रूप से लगवाने एक व्यवस्था बनाई जिसमे गरीब वर्ग के लोगो को प्राथमिकता देने की नीति बनी भाजपा को गरीबो को टीका देना भी रास नही आया।

error: Content is protected !!