प्रदेश सरकार स्पष्ट करे, ग्रामीण क्षेत्रों में ग़लतफ़हमियाँ कौन फैला रहा है, जिससे लोग वैक्सीन लगवाने तैयार नहीं हो रहे : भाजपा

०० भाजपा प्रदेश अध्यक्ष साय ने गाँवों में वैक्सीन का टीका लगाने पहुँच रही प्रशासनिक टीम का विरोध कर गाँव से लौटने को मज़बूर किए जाने पर चिंता जताईकहा- यह प्रदेश सरकार की विफलता

०० प्रदेश सरकार वैक्सीनेशन में आरक्षण जैसी राजनीतिक नौटंकी करने के बजाय यदि लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक और प्रेरित करने में अपनी ऊर्जा ख़र्च करती तो ज़्यादा अच्छा होता

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रदेश के गाँवों में कोरोना प्रतिरोधक वैक्सीन का टीका लगाने पहुँच रही प्रशासनिक टीम का विरोध कर उसे गाँव से लौटने को मज़बूर किए जाने की ख़बरों पर चिंता जताते हुए इसे प्रदेश सरकार की विफलता बताया है। श्री साय ने प्रदेश सरकार से यह स्ष्ट करने की मांग की है कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीन को लेकर इस तरह की ग़लतफ़हमियाँ कौन फैला रहा हैजिससे ग्रामीण अब वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार नहीं हो रहे हैं और टीकाकरण के लिए पहुँच रहे प्रशासनिक अमले को विरोध का सामना करना पड़ रहा है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री साय ने कहा कि जब तक 60 वर्ष और 45 वर्ष आयुसीमा से अधिक वालों को वैक्सीन टीकाकरण का काम केंद्र सरकार के निर्देशन में चल रहा थातब तक इस तरह का कोई व्यवधान और विरोध सामने नहीं आयाऔर अब 18 वर्ष की आयुसीमा से अधिक के लोगों के टीकाकरण का यह काम जबसे प्रदेश सरकार के अधिकार क्षेत्र में आया हैटीकाकरण के विरोध की ख़बरें सामने आने लगी हैं। श्री साय ने कहा कि वायरल हो रहे वीडियो क्लिप्स और अख़बारों में प्रकाशित समाचारों में यह बात हैरत में डालने वाली है कि कोरोना को सरकारी बीमारी कहा जा रहा है और ग्रामीण किसी भी सूरत में टीकाकरण के लिए तैयार नहीं हो रहे हैंजिससे प्रशासनिक अमले को काफ़ी दिक़्क़तें उठानी पड़ रही हैं। श्री साय ने कहा कि टीकाकरण का विरोध करना एकदम ग़लत है और इसके लिए प्रदेश सरकार को गाँव-गाँव में जागरुकता के लिए कैम्प आदि लगाकर ग्रामीणों को जागरूक किया जाना चाहिएताकि कोरोना के ख़िलाफ़ जारी ज़ंग अपने सार्थक बिंदु तक पहुँचे। श्री साय ने कहा कि प्रदेश सरकार वैक्सीनेशन में आरक्षण जैसी राजनीतिक नौटंकी करने के बजाय यदि गाँवों में लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक और प्रेरित करने में अपनी ऊर्जा ख़र्च करती तो ज़्यादा अच्छा होता। प्रदेश सरकार प्रदेशभर में टीकाकरण को लेकर फैलती अफ़वाहों के मद्देनज़र गाँवों में यह जागरुकता लाए कि इस समय मास्क धारण करने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ ही वैक्सीन का टीका लगवाना ही एकमात्र तरीक़ा हैजिससे कोरोना की रोकथाम की जा सकती है। श्री साय ने कहा कि प्रदेश सरकार वैक्सीनेशन को लेकर फैली भ्रांतियों के निराकरण की तत्काल पहल करेअन्यथा वैक्सीनेशन का पूरा अभियान ही चौपट हो जाएगा।

error: Content is protected !!