होम आइसोलेशन में रहकर डॉक्टर की सलाह और सकारात्मक सोच से रितेश ने जीती कोरोना की जंग

रायपुर| कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर होम आइसोलेशन में रहकर डॉक्टर की सलाह और सकारात्मक सोच से बिलासपुर के श्री रितेश गुप्ता ने कोविड की जंग जीत ली है।
29 वर्षीय श्री रितेश ने बताया कि पिछले माह 20 मार्च को खाना खाने के बाद उन्हें कुछ असहज महसूस हुआ। उनका गला सूख रहा था, शाम होते होते उन्हें बुखार भी आ गया। लक्षणों के आधार पर उन्होंने सिम्स में एंटीजन टेस्ट कराया। उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद उन्होंने आरटीपीसीआर टेस्ट भी करवाया। 24 मार्च को उनको हॉस्पिटल से फोन आया कि उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव है। इस खबर से रितेश ने खबराया नहीं, बल्की सकारात्मक सोच के साथ प्रोटोकॉल के तहत होम आइसोलेशन में रहकर वे चिकित्सकों से सलाह लेते रहे और अपनी बुलंद हौसलों तथा सकारात्मक सोच से शीघ्र ही स्वस्थ्य हो गए। उन्होंने बताया कि उनके परिजन भी संक्रमित हो गए थे। उन्होंने भी डॉक्टर की सलाह से तत्काल उपचार लिया और वे भी स्वस्थ हो गए।  रितेश ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि कोरोना संक्रमित होने पर बिल्कुल भी घबराएं नहीं और चिकित्सक की परामर्श से दवा लेने के साथ ही अपना मन भी मजबूत रखे, इससे कोरोना से जंग जीती जा सकती है। श्री रितेश प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं।

error: Content is protected !!