सैंया भए कोतवाल तो डर काहे का : अनुराग सिंहदेव

रायपुर ! रायपुर कोरोना महामारी के भयंकर चपेट में आ गया है। प्रतिदिन 3000 के आसपास लोग संक्रमित हो रहे और रायपुर शहर में हर घंटे में 3 व्यक्तियों की मृत्यु हो रही है । ऐसे में महापौर के वार्ड में 100 की संख्या में एकत्र होकर धार्मिक कार्य करना इस बीमारी को बढ़ावा देना है और महापौर के दबाव में पुलिस द्वारा कार्रवाई न होने से विघ्न संतोषी लोगों की हिम्मत बढ़ती जा रही है। जब पूरे शहर में लॉकडाउन है , लोगों को जरूरत के सामान भी नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में महापौर के वार्ड में देर रात तक लोगों का जमावड़ा देखा जा सकता है और विगत दिनों पुलिस के साथ भी झड़प की घटनाएं हो चुकी है। आज भी जय स्तंभ चौक में महापौर के परिजन द्वारा कोरोना का नियम पालन ना करने और मास्क पहनने की समझाइश देने पर पुलिसवालों को सस्पेंड करने की धमकी दी गई। शहर के प्रथम नागरिक ही जब नियम कानून ना माने तो शहर का हाल स्वमेव ही समझा जा सकता है।
भाजपा जिला मीडिया प्रभारी अनुराग अग्रवाल ने कहा कि इस प्रकार की घटनाओं से पुलिस का मनोबल गिरता है जिसकी परिणति जयस्तंभ चौक में हत्या और अपराधियों द्वारा हत्या कर वीडियो बनाने के रूप में सामने आता है उन्होंने डीजीपी से मांग की है कि पुलिस अधिकारियों को बिना दबाव के निष्पक्ष रुप से कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया जाए ताकि इस महामारी की बढ़त को भी रोका जा सके व अपराधियों के हौसले पस्त हो।

error: Content is protected !!