समितियों में शेष धान का हो त्वरित निराकरण: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

०० मुख्यमंत्री ने राज्य में उपार्जित धान के निराकरण तथा कस्टम मिलिंग की समीक्षा की

०० खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में 92 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी

रायपुरमुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित बैठक में राज्य में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में उपार्जित धान के निराकरण और कस्टम मिलिंग की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने इस दौरान समितियों में शेष धान के त्वरित निराकरण के लिए आवश्यक निर्देश दिए। साथ ही समितियों में निराकरण हेतु शेष धान के उचित रख-रखाव के लिए भी निर्देशित किया।
गौरतलब है कि खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में उपार्जित कुल 92 लाख मीट्रिक टन धान में से 47.37 लाख मीट्रिक टन धान डी.ओ. के माध्यम से मिलर्स को प्रदाय किया जा चुका है तथा 19.68 लाख मीट्रिक टन धान टी.ओ. के माध्यम से संग्रहण केन्द्रों को प्रदाय किया गया है। आज तक नीलामी के माध्यम से 4.59 लाख मीट्रिक टन धान का विक्रय किया जा चुका है। इस तरह समितियों में वर्तमान में 20.36 लाख मीट्रिक टन धान निराकरण हेतु शेष है।  इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैनअपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहूमुख्यमंत्री के सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी तथा मार्कफेड के प्रबंध संचालक श्री अंकित आनंद उपस्थित थे।

error: Content is protected !!