किराना, अनाज, फल, सब्जी दुकानों के साथ बैंको को भी खोलने की अनुमति

00 रायपुर सराफा एसोसिएशन ने कलेक्टर को पत्र लिखकर की मांग
रायपुर। लॉकडाउन की 10 अवधि दिन अवधि पूरी होने के बाद जिला प्रशासन ने आज से कुछ शर्तों के साथ ठेले के माध्यम से किराना सामानफल व सब्जी बेचने की अनुमति दी गई लेकिन अधिकतर जगहों पर सब्जी के ठेले तो पहुंचे पर वह भी महंगे दामों में लेकिन किराना सामानों के ठेले नहीं पहुंच पाए क्योंकि यह संभव नहीं लग रहा हैं। इसी को देखते हुए रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष हरख मालू ने रायपुर कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन को पत्र लिखकर किरानाअनाजफलसब्जी की दुकानों के साथ ही बैंकों को भी निर्धारित समय के लिए खोलने की अनुमति देने की मांग की ताकि आम लोगों को आसानी से सामान मिल सकें।
पत्र के माध्यम से अध्यक्ष मालूपवन अग्रवाललक्ष्मीनारायण लाहोटीप्रहलाद सोनी व अनिल कुचेरिया ने कलेक्टर को बताया कि 10 दिन तक लॉकडाउन लगाया था जिसमें जरुरत की चीजों के साथ ही सभी प्रकार की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया थाइसके बाद दिन के लिए पुन: लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया और इसमें जरुरत की सामान आम लोगों तक आसानी से पहुंच सकें इसके लिए किराना दुकानदारों को ठेलों के माध्यम से सामान बेचने की अनुमति दी गईवहीं सब्जी वालों को भी। सब्जी तो अधिकतर गली और मोहल्लों में आसानी से पहुंच गया लेकिन किराना सामानों के ठेलों उनके घरों तक नहीं पहुंच पाई इसके कारण आम जनता को दैनिक उपयोग की वस्तुएं आसानी से उपलब्ध नहीं हो पाई। वैसे भी ठेलों के माध्यम से किराना के सामान बेचा संभव दिखाई नहीं दे रहा क्योंकि जितना सामान दुकान में आता है इतना सामान ठेले में रखकर बेचना संभव नहीं हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए किराना व अनाज की दुकानों को निर्धारित समय के लिए दुकान खोलने की अनुमति प्रदान की जाए ताकि आम जनता को दैनिक उपयोग की वस्तुएं आसानी से उपलब्ध हो सकें। इसके साथ ही फल व सब्जी की दुकानों के साथ ही बैंकों को भी निर्धारित समय के लिए खोलने की अनुमति दी जाए।

error: Content is protected !!