नारायणपुर पुलिस ने दो नक्सल सदस्यों को किया गिरफ्तार

०० गिरफ्तार नक्सली ओरछा के पास मुख्य मार्ग में आईईडी विस्फोट की घटना में थे शामिल

रायपुर| पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत थाना ओरछा की जिला बल, डीआरजी एवं छसबल की संयुक्त पुलिस पार्टी साप्ताहिक बाजार ओरछा में चेकिंग कार्यवाही के दौरान पुलिस पार्टी को देखकर दो संदिग्ध व्यक्ति लुक-छिप रहे थे, जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया, पूछताछ में दोनों आरोपीयो ने आईईडी विस्फोट की घटनामें शामिल होना बताया जिसके बाद सुरक्षा बल द्वारा दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया|

सुन्दरराज पी, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रंेज, विनीत खन्ना, पुलिस उप महानिरीक्षक, कांकेर रेंज, उत्तर बस्तर कांकेर, श्री मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर एवं श्री नीरज चंद्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नारायणपुर के निर्देशन में डीआरजी, जिला बल, छसबल, एसटीएफ, आईटीबीपी, द्वारा क्षेत्र में लगातार नक्सल विरोधी अभियान संचालित किया जा रहा है। पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के क्रम में थाना ओरछा की जिला बल, डीआरजी एवं छसबल की संयुक्त पुलिस पार्टी साप्ताहिक बाजार ओरछा में चेकिंग कार्यवाही कर रही थी। चेकिंग की कार्यवाही के दौरान पुलिस पार्टी को देखकर 02 संदिग्ध व्यक्ति लुक-छिप रहे थे, जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया। पूछताछ पर जिन्होने अपना नाम शंकर पोयाम पिता पंडरू पोयाम उम्र 23 वर्ष निवासी डुरगीपारा गुदाड़ी थाना ओरछा (भट्टबेड़ा जनताना सरकार अध्यक्ष)  मानसिंह वडडे उर्फ गुडडु पिता कारूराम वडडे उम्र 19 वर्ष निवासी डुरगीपारा गुदाड़ी थाना ओरछा (भट्टबेड़ा मिलिशिया डिप्टी कमाण्डर) बताया तथा दिनांक 27 फरवरी को ओरछा के पास मुख्य मार्ग में आईईडी विस्फोट की घटना जिसमें एक छसबल का जवान घायल हुआ था, उक्त घटना में शामिल होना स्वीकार करने पर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेशकर जेल दाखिल किया गया।

error: Content is protected !!