रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग ने आरम्भ किया एंटीजन टेस्ट

00 रायपुर में प्रवेश करने वाले यात्रियों का हो रहा एंटीजन टेस्ट
रायपुर। कोविड-19 संक्रमण का दूसरा दौर शुरू होने के बाद कोविड संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने रेल से रायपुर में आने वाले यात्रियों का एंटीजन टेस्ट अनिवार्य कर दिया है। इसका पालन मंगलवार की सुबह से ही शुरू कर दिया गया। दूसरे दौर के संक्रमण के बीच आए यात्री संक्रमण को लेकर लापरवाही ना करें । अपनी सेहत के साथ साथ लोगों की सेहत को लेकर भी सर्तक रहें। स्वास्थ्य विभाग, रेलवे और जिला प्रशासन कोविड से बचाव को लेकर पूरी सतर्कता बरत रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.मीरा बघेल के मार्गदर्शन में एंटीजन टेस्ट रायपुर रेलवे स्टेशन में शुरू किया गया है।
एंटीजन टेस्ट के व्यवस्थापक एवं मीडिया प्रभारी गजेंद्र डोंगरे ने बताया‘’रायपुर में प्रवेश लेने से पूर्व यात्रा करके आये यात्री को एंटीजन टेस्ट करने की प्लानिंग सोमवार शाम को की गई थी । मंगलवार से इसकी शुरुआत कर दी गयी है। इसके लिए रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य कर्मचारियों की तीन शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गयी है। ताकि ट्रेनों से आने वाले सभी यात्रियों की जांच की जा सके और संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। उन्होंने कहा “ रायपुर में यात्रा समाप्त करने वाले प्रत्येक यात्री का एंटीजन टेस्ट करके ही शहर में प्रवेश दिया जाएगा। यात्री पॉज़िटिव आता है तो उसे तुरंत आइसोलेशन के लिये पहुंचाया जायेगा साथ ही आरटीपीसीआर के लिये टीम द्वारा अग्रिम कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया,“टीम में इस समय 24 लोगों और  6 सुपरवाइजर काम कर रहे हैं कोविड-19 के संक्रमण को कम करने के लिए यात्री और परिजनों को टेस्ट कराने में सहयोग करने की अपील की जा रही है । यह समय कोविड से डरने का नही लड़ने का है। घबराना नहीं है। बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए सतर्कता बढ़ाई गई है।घर आने वाले लोग कोरोना वायरस का संक्रमण भी अपने साथ ला रहे हैं। ऐसे में प्रदेश सरकार की ओर से वायरस के सेकंड राउंड से निपटने के लिए रेलवे और स्वास्थ्य महकमा एक साथ है और यात्रियों का एंटीजन टेस्ट कर कोरोना वायरस के सेकंड राउंड पर लगाम लगाने की शुरूआत की गई है”।

error: Content is protected !!