रायपुर में  कोरोना मरीज़ों के उपचार के लिये युद्धस्तर पर प्रयास, ऑक्सीजन बेड्स की संख्या 7 सौ तक बढ़ाने की का काम पूरा

०० मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल स्वयं  कर रहे हैं सारी व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा 

०० समाज सेवी संस्थाएं और विभिन्न वाणिज्यिक संस्थाएं भी इस महामारी से लड़ाई में आगे आ रहीं हैं

रायपुर| रायपुर जिले में कोविड की चुनौतियों से मुकाबले में लगातार संसाधन झोंके जा रहे  हैं. अब रायपुर में ही ऑक्सीजन बेड्स की संख्या 7 सौ बढ़ाई जा रही है । कुल बेड की संख्या में भी 2730 का इजाफा किया जा रहा है । बुधवार को इसमें 260 बिस्तरों का इजाफा हो जाएगा| रायपुर कलेक्टर डॉ एस भारती दासन के मुताबिक इस समय आयुर्वेदिक कॉलेज कोविड अस्पताल और कोविड केयर सेंटर लालपुर में ऑक्सीजन सुविधा वाले 4 -4  सौ बिस्तर मरीजों के उपचार की व्यवस्था  की जा रही है ।इसी तरह अटारी स्थित साइंस कॉलेज में भी 3 सौ बिस्तरों का कोविड अस्पताल विकसित किया गया है जिसमें डेढ़ सौ बिस्तर ऑक्सीजन सुविधाओं के साथ हैं.

दासन ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल स्वयं सारी व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि अब समाज सेवी संस्थाएं और विभिन्न वाणिज्यिक संस्थाएं भी इस महामारी से लड़ाई में आगे आ रहीं हैं. ऐसी संस्थाओं की तरफ से अभी 4 सौ बिस्तरों के आइसोलेशन सेंटर और कम से कम सौ बिस्तरों के ऑक्सीजन बिस्तरों की व्यवस्था हो चुकी है .कुछ औद्योगिक प्रतिष्ठानों तथा बैंक के सहयोग से जिला प्रशासन को 250 ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर तथा 3 सौ से अधिक ऑक्सीजन सिलेंडर मिले हैं .इनके अलावा आयुष विश्विद्यालय भवन में 3 सौ बिस्तरों के तथा नया रायपुर स्थित होटल मैनेजमेंट भवन में 5 सौ बिस्तरों के आइसोलेशन सेंटर की स्थापना की गई है. यह सारी सुविधाएं पहले ही मौजूद विभिन्न शासकीय स्वास्थ्य सेवाओं के अतिरिक्त हैं. रायपुर के इंडोर स्टेडियम में भी 3 सौ बिस्तरों का आइसोलेशन सेंटर विकसित कर लिया गया है. प्रयास बालक छात्रावास सड्डू और प्रयास बालिका छात्रावास गुढ़ियारी में भी 300- 300 बेड की व्यवस्था की गई है. ई एस आई हॉस्पिटल रायपुर में भी कोविड केयर सेंटर बनाया गया है यहां 200 बेड की व्यवस्था है। जिसमें 100बेड ऑक्सीजन सुविधाओं युक्त होंगे। इसी तरह वूमेन वर्किंग हॉस्टल कोविड केयर सेंटर फुण्डहर बनाया गया है जिसमें 270 बेड की व्यवस्था की जा रही है जिसमें 15 बेड ऑक्सीजन की सुविधा वाले हैं। दासन ने कहा कि जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग सहित विभिन्न विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर पूरी मुस्तैदी से जुटा हुआ है. उन्होंने नागरिकों से कोविड नियमों का कड़ाई से पालन करने की अपील की है और कहा है कि जिले में  संसाधनों की कोई कमी नहीं है ।

error: Content is protected !!