मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान करने की अपील पर सच्चिदानंद उपासने ने किया कटाक्ष

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सच्चिदानंद उपासने ने मुख्यमंत्री द्वारा कोरोना संक्रमण से निपटने हेतु कांग्रेसजनों से मुक्त हस्त से अधिक से अधिक धनराशि मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान करने की अपील पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इस अपील पर अब कांग्रेस के अंदर तरह तरह की चर्चाएं चल रही हैं,कहा तो यंहा तक जा रहा कि कुछ प्रभावशाली  जो सत्ता के निकट हैं इसी बहाने अच्छी खासी रकम इकट्ठा करने की छूट दे दी गयी है,इसी कारण कांग्रेस का वह कार्यकर्ता अब दबी जुबान से कह रहे कि जिन्हें निगम आयोग के पदों से नवाजा गया है उन नेताओं ने कितनी कितनी राशि चंदा के रूप में दी,क्या अपने एक माह का वेतन भत्ते देने की भी घोषणा उन्होंने की है,पार्टी कार्यकर्ता पार्टी अध्यक्ष मोहन मरकाम से यह भी पूछ रहे कि कितने विधायक ,मंत्रियों व अन्य वरिष्ठजनों ने फंड में अपील के बाद कितना दान दिया ?

उपासने ने यह भी पूछा कि मुख्यमंत्री व कांग्रेस अध्यक्ष वह सोर्स भी बताएं जंहा से वसूली कर सी एम फंड में कांग्रेसजनों को राशि जमा करने कहा गया है?वे कौन से उद्योगपति, ठेकेदार व अधिकारी हैं जिनको सूचिबद्ध कर उनसे वसूली हेतु निर्देशित किया गया है ?उपासने ने कहा कि कांग्रेसी इस अपील के बाद यह भी कह रहे कि ढाई साल के कार्यकाल में सत्ता की मलाई तो चंद लोग ही खा रहे हैं तो पूरे कांग्रेस जन आज संक्रमण काल में कहाँ से पैसे लाएं,जमीनी कार्यकर्ता तो आज भी अपने आपको निगम आयोग की सूची की आस में ठगा हुआ महसूस कर रहा,इसीलिए पूछ रहा कि जिन्हें पदों  से नवाजा गया उन्होंने कितनी कितनी राशि सहायता कोष में दी बताया जावे?उपासने ने कहा कि जनता भी जानना चाहती है कि आखिर मुख्यमंत्री की अपील का कितने कांग्रेसजनों ने पालन किया व अब तक कितनी राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा हुई उसे सार्वजनिक किया जावे व उसे किस मद में खर्च किया गया यह भी बताया जावे।

error: Content is protected !!