सरस्वती सायकल योजना से कम हुई स्कूल की दूरी : जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा

०० जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ने किया सरस्वती सायकल का वितरण

०० सभापति अंकित गौरहा ने बताया, 21 वीं सदी में बच्चियां निभाएंगी विकास में सहभागिता                                                    

बिलासपुर| बिल्हा ब्लॉक के बैमा शासकीय कन्या हाईस्कूल में जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ने छात्राओं के बीच सायकल वितरण किया। कार्यक्रम में स्थानीय गणमान्य लोगों के अलावा स्कूल स्टाफ समेत पंचायत कर्मचारी और अधिकारियों ने भी शिरकत किया। गौरहा ने छात्राओं की पढ़ाई के प्रति लगन को लेकर खुशी का इजहार किया। उन्होने बताया कि जमाना 21 वीं सदी का है। लड़कियों ने हर मोर्चे पर सफलता का परचम लहराया है। देश वासियों को अपनी बेटियों पर नाज है।

बैमा हाईस्कूल हाईस्कूल में अंकित गौरहा कुल 59 छात्राओं के बीच सायकल का वितरण किया। कार्यक्रम के दौरान जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ने कहा कि सायकल योजना शुरू होने से पहले छात्राओं में शिक्षा का दर बहुत ही कम था। पढ़ाई लिखाई का दायरा केवल शहरी क्षेत्र की छात्राओं तक ही सीमित था। ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूल की दूरी अधिक होने के कारण छात्राएं पढ़ाई लिखाई से वंचित हो जाती थी।  सरकार ने बच्चियों की परेशानियों को गंभीरता से लिया। इसके बाद सायकल योजना का शुभारम्भ हुआ।  आज दूर दराज गांव से बच्चियां सायकल चलाकर स्कूल पहुंच रही है। योजना शुरू होने के बाद साल दर साल खासकर ग्रामीण बच्चियों और अभिभावकों में शिक्षा के प्रति जागरूकता बढ़ी है। बच्चियों ने भी निराश नहीं किया। हर साल मेरिट स्थान बनाकर बच्चियों ने घर परिवार गांव और शहर का नाम रोशन किया है। अंकित ने कहा कि सरकार बच्चियों के साथ है। सरकार का प्रयास है कि बच्चियां देश के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें। अच्छे अंक से पास होकर देश के विकास में ज्यादा से ज्यादा सहभागिता निभाएं।  बैमा में आयोजित कार्यक्रम के दौरान सरपंच प्रतिनिधि दीपक नायक,शाला एवं प्रबंधन विकास समिति अध्यक्ष धर्मेंद्र शास्त्री, उपसरपंच संजय पाण्डेय,भोज कुमारी पटेल,प्रभा यादव,हेमलाल यादव,बीरेंद्र ठाकुर,कमल सिंह,बी.पी.कैवर्त , प्राचार्य,छात्राएं और स्थानीय लोग मौजूद थे।

error: Content is protected !!