भाजपा का सवाल : छत्तीसगढ़ कोरोना विस्फोट के मुहाने पर खड़ा है, तब मुख्यमंत्री बघेल को असम में नाचते-गाते क्या ज़रा भी शर्म महसूस नहीं हुई?

0 भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने प्रदेश सरकार की घोर उदासीनता पर प्रदेशवासियों की चिंता करने पर भाजपा के ख़िलाफ़ अनर्गल प्रलाप करने वाले कांग्रेस नेताओं और जनप्रतिधियों को आड़े हाथों लिया

0 सत्तावादी अहंकार में चूर कांग्रेस और प्रदेश सरकार को जनस्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने का अक्षम्य अपराध क़तई नहीं करने दिया जाएगा, भाजपा प्रदेश सरकार को आगाह करती रहेगी : साय

0 कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सालभर में पुख़्ता इंतज़ाम करने, स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर करने के बजाय प्रदेश सरकार ने सियासी नौटंकियों और मिथ्या प्रलाप करने में वक़्त जाया किया

0 बेक़ाबू कोविड-19 की वज़ह से लगातार हो रही मौतों के चलते शवों के दाह संस्कार के लिए ज़गह तक नहीं मिल रही और बघेल असम में नाच-गाने में मशगूल हैं, प्रदेश के लिए यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रदेश में तेज़ी से हो रहे कोरोना संक्रमण के फैलाव को लेकर प्रदेश सरकार की घोर उदासीनता पर प्रदेशवासियों की चिंता करने पर भाजपा के ख़िलाफ़ अनर्गल प्रलाप करने वाले कांग्रेस नेताओं और प्रदेश सरकार के मंत्रियों को आड़े हाथों लिया है। श्री साय ने कहा कि अपने सत्तावादी अहंकार में चूर कांग्रेस और प्रदेश सरकार को कोरोना संक्रमण के मद्देनज़र जनस्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने का अक्षम्य अपराध क़तई नहीं करने दिया जाएगा और भाजपा इस मसले पर प्रदेश सरकार को उसकी लापरवाही और ग़ल्तियों के लिए आगाह करती रहेगी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री साय ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक स्थिति है कि एक तरफ़ प्रदेश कोरोना संक्रमण की दूसरी घातक लहर से जूझ रहा है, संक्रमण के लिहाज से छत्तीसगढ़ देश में दूसरे और कोरोना से मौतों के मामले में देश में तीसरे स्थान पर है और प्रदेश के मुख्यमंत्री बघेल प्रदेशवासियों की फ़िक्र करने के बजाय असम के चुनाव के बहाने ‘परिवार-वंदना’ कर अपना नंबर बढ़ाने में मशगूल हैं। मुख्यमंत्री बघेल के असम में एक कार्यक्रम में नाचते हुए वायरल वीडियो का ज़िक्र करते हुए श्री साय ने सवाल किया कि जो प्रदेश कोरोना विस्फोट के मुहाने पर खड़ा है, उस छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को असम में नाचते-गाते क्या ज़रा भी शर्म महसूस नहीं हुई? श्री साय ने कहा कि ज़िंदग़ी और मौत के बीच प्रदेशवासियों को भगवान भरोसे छोड़कर संवेदनहीनता की पराकाष्ठा कर रहे मुख्यमंत्री बघेल अपनी ज़िम्मेदारी से मुँह चुरा रहे हैं और कांग्रेस के लोग इस पर संज़ीदा होने के बजाय मुख्यमंत्री के कृत्यों पर पर्दा डाल रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री साय ने कहा कि कोरोना संक्रमण से राज्य को बचाने के लिए प्रदेश सरकार ने पिछले सालभर में बजाय पुख़्ता इंतज़ाम करने, स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर करने के अपना पूरा वक़्त सियासी नौटंकियों और केंद्र सरकार पर अपनी विफलताओं को ठीकरा फोड़ने तथा मिथ्या प्रलाप करने में जाया किया। कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से लेकर कांग्रेस जनप्रतिनिधि कोरोना के ख़िलाफ़ ज़ंग की रणनीतिक तैयारियों पर ध्यान देने के बजाय अब भी भाजपा को कोसने में लगे हैं। श्री साय ने कहा कि अपने इसी राजनीतिक अहंकार के चलते कांग्रेस और उसकी प्रदेश सरकार ने छत्तीसगढ़ को कोरोना महामारी के गर्त में धकेला है। कांग्रेस के नेता पहले आत्म-परीक्षण करें और अपनी सरकार की लचर कार्यप्रणाली पर पर्दा डालने के बजाय उसे कोरोना के मुक़ाबले के लिए दुरुस्त इंतज़ामात की नसीहतें दें। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री साय ने कहा कि केवल राजनीतिक विरोध की पट्टी बांधे कांग्रेस नेता अपनी ज़िम्मेदारी का अहसास करते हुए प्रदेश सरकार को उसकी लापरवाहियों पर सचेत करें, केवल झूठी वाहवाही लूटने के लिए सत्य और तथ्य को अनदेखा करने से बाज आएँ। श्री साय ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल के अपने गृह ज़िले दुर्ग में कोरोना संक्रमण और उससे हो रही मौतें आशंकाओं की भयावहता को रेखांकित कर रही हैं और साथ ही प्रदेश सरकार की रीति-नीति पर सवाल खड़ा कर रही है। श्री साय ने कहा कि दुर्ग ज़िले में कोविड-19 की वज़ह से हालात बेक़ाबू हो गए हैं और लगातार हो रही मौतों के चलते अब तो कोरोना-मृतकों के शवों के दाह संस्कार के लिए ज़गह तक नहीं मिल रही है और मुख्यमंत्री बघेल नौकरशाहों के ज़िम्मे प्रदेश को सौंपकर दीग़र प्रदेश में जाकर सियासी नौटंकियाँ रचने और नाचने-गाने में मशगूल हैं, प्रदेश के लिए यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है।

error: Content is protected !!