नक्सली मुठभेड़ में घायल जवानों को किया गया एयर लिफ्ट, एअरपोर्ट से अस्पताल तक ग्रीन कारीडोर

रायपुर। बीजापुर में पुलिस नक्सली मुठभेड़ हुई है। इस मुठभेड़ में 5 जवान शहीद हो गए हैं और 12 जवान घायल हुए है। घायलों को राजधानी के अस्पताल में लाया जा रहा है। इसकी जानकारी डीआईजी नक्सल ऑपरेशन ओपी पाल ने दी।
बता दें कि 3 घंटे से अधिक समय तक चली इस मुठभेड़ में एक महिला नक्सली का शव भी बरामद हुआ है। इन शहीद जवानों में कोबरा बटालियन से 1, बस्तरिया बटालियन से 2 और डीआरजी के 2 जवान शामिल है। इस मुठभेड़ में नक्सलियों को भी भारी नुकसान हुआ है। बीजापुर एवं सुकमा से डीआरजी, एसटीएफ, सीआरपीएफ और कोबरा के संयुक्त बल द्वारा नक्सलियों के गढ़ माने-जाने वाले दक्षिण बस्तर के इलाके में संयुक्त अभियान चलाया गया। इस अभियान में बीजापुर के तरॆम से 760, उसूर से 200 तथा पामेड़ से 195, सुकमा के मिनपा से 483 एवं नरसापुरम से 420 का बल रवाना हुआ था। दोपहर लगभग 12 बजे सुकमा-बीजापुर के सीमा पर सुकमा जिले के जगरगुंड़ा थाना क्षेत्र के जोनागुड़ा ग्राम के समीप नक्सलियों की पीएलजीए बटालियन तथा तरेम के सुरक्षाबलों के मध्य मुठभेड़ लगभग 3 घंटे से अधिक समय तक चली। घायल 12 जवानों में से 7 जवानों को हेलीकॉप्टर से रायपुर लाया जा रहा है। जवानों को बेहतर उपचार के लिए राजधानी के रामकृष्ण अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। एयरपोर्ट से निजी अस्पताल तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया जाएगा।

error: Content is protected !!