मुख्यमंत्री के सरकारी हेलिकॉप्टर में वेडिंग फोटोशूट मामले में रायपुर सीएसपी ने शुरू की जांच

०० मामले की शिकायत करने वाले कांग्रेस सचिव विकास तिवारी को बयान के लिये बुलाया

रायपुर| मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सरकारी हेलिकॉप्टर में वेडिंग फोटोशूट मामले की जांच में पुलिस भी शामिल हो गई है। रायपुर सिटी कोतवाली के नगर पुलिस अधीक्षक ने मामले की जांच शुरू की है। पुलिस ने सबसे पहले कांग्रेस के प्रदेश सचिव और प्रवक्ता विकास तिवारी को बयान के लिये तलब किया है। विकास ने पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी से मामले की लिखित शिकायत की थी।

नगर पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में फोटो शूट कराने वाले भाजपा नेता संकेत साय, उनकी पत्नी, फोटोशूट करने वाले फोटोग्राफर और शिकायतकर्ता विकास तिवारी को तलब किया। आज विकास तिवारी और फोटोशूट करने वाले फोटोग्राफर सिटी कोतवाली पहुंचे थे। फिलहाल विकास तिवारी ने बयान दर्ज नहीं कराया है। उन्होंने कहा, पुलिस पहले इस मामले में शामिल लोगों से पूछताछ कर ले। उसके बाद वे बयान दर्ज कराएंगे। अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में जल्दी ही सभी पक्षों के बयान दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। पिछले महीने 20-21 फरवरी को जशपुर के भाजपा नेता संकेत साय ने पत्नी के साथ रायपुर पुलिस लाइन स्थित हैंगर पहुंचकर सरकारी हेलिकॉप्टर में वेडिंग फोटो शूट कराया था। फोटोशूट काफी देर तक चला, लेकिन किसी जिम्मेदार अधिकारी ने इस ओर ध्यान देना जरूरी नहीं समझा। फोटोशूट की तस्वीरे सामने आने के बाद अब विमानन विभाग और हेलिकॉप्टर की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। प्रदेश कांग्रेस सचिव और प्रवक्ता विकास तिवारी ने डीजीपी  डीएम अवस्थी को पत्र लिखकर सरकारी हेलीकाप्टर में वेडिंग फोटोशूट कराने की घटना की उच्चस्तरीय जांच की मांग की थी। तिवारी ने कहा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इसी सरकारी हेलीकाप्टर में प्रदेश का दौरा करते हैं। अज्ञात लोगों ने उस हेलीकॉप्टर में वेडिंग फोटोशूट कराया है जो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सुरक्षा में बड़ी चूक है। तिवारी ने हेलिकॉप्टर में माइक्रोचिप, सेंसर, वाइस रिकार्डर या विस्फोटक रखने की आशंका भी जताई थी। मामला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अधिकारियों को तलब किया था। इसमें तथ्यों की जानकारी लेने के बाद मुख्यमंत्री ने फोटोशूट कराने वाले साय दंपती को माफ करते हुए उन्हें शुभकामना भी दी थी। उस बैठक में मुख्यमंत्री ने हेलिकॉप्टर की सुरक्षा में चूक का पता लगाने को भी कहा था। इस मामले में विमानन विभाग अपने एक ड्राइवर को पहले ही निलंबित कर चुका है। आरोप है कि ड्राइवर ने ही स्टेट हैंगर खुलवाया था।

error: Content is protected !!