राहुल गाँधी ने जो वादा किया था उसे मुख्यमंत्री बनते ही भूपेश बघेल ने निभाया : कांग्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो वादा किया उसे नही निभाया इसलिये डॉ रमन की सत्ता चली गयी जनता भाजपा से खिन्न है

भूपेश राज में मूल छत्तीसगढ़िया युवाओ को रोजगार मिल रहा है रमन राज में आउटसोर्सिंग वालो को तवज्जो मिलता था

डॉ रमन सिंह बताये कि उनके पंद्रह वर्षों के शासन में पच्चीस लाख पंजीकृत और इतने ही अपंजीकृत बेरोजगार क्यो थे?

रायपुर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं सचिव विकास तिवारी ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी एवं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के असम दौरे पर ट्विटर में की गयी टिप्पणी को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह की बौखलाहट और झुंझलाहट बताया है। डॉ रमन ने असम की जनता से कहा है कि कांग्रेस के झांसे पर ना आये जबकि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह पंद्रह सालों से छत्तीसगढ़ राज्य की बागडोर संभाल रहे थे और उनके राज में पच्चीस लाख पंजीकृत बेरोजगार और पच्चीस लाख अपंजीकृत बेरोजगार थे। बावजूद इसके डॉ रमन सिंह आउटसोर्सिंग के माध्यम से प्रदेश के बाहर के युवाओं को नौकरियां रेवड़ी की तरह बांटते थे और छत्तीसगढ़ के मूल निवासी युवा मुंह ताकते बैठे रहते थे और रोजी-रोटी कमाने प्रदेश से बाहर पलायन करने को मजबूर हुआ करते थे। रमन राज में हर वर्ष लाखों की संख्या में छत्तीसगढ़ के मूल निवासी पलायन किया करते थे जिसमें से बहुत सारे लोग आज असम एवं अन्य में निवासरत है और अब भूपेश राज में अपने प्रदेश वापस आ रहे है।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह से सवाल करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि देश में हर वर्ष दो करोड़ रोजगार दिया जाएगा इस हिसाब से चौदह करोड़ पढ़े-लिखे युवाओं को रोजगार मिलना था जबकि ऐसा हुआ नहीं और कोरोना महामारी के समय बीस करोड़ से अधिक लोग बेरोजगार हो गए इस पर भारतीय जनता पार्टी की चुप्पी समझ से परे है। जहां एक ओर बेरोजगारी अपने चरम पर है, वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार द्वारा लगातार सरकारी उपक्रमों को अपने उद्योगपति मित्रों के हाथ कौड़ियों के भाव में बेचा जा रहा है और देश के पढ़े लिखे युवा जो सरकारी नौकरी का सपना संजोये हुये हैं वह हताश और निराश हैं। भ्रम फैलाने की राजनीति करने वाली भारतीय जनता पार्टी असम में बुरी कदर से चुनाव हारने के कगार पर हैं यह बात स्पष्ट रूप से डॉ रमन सिंह के ट्वीट से समझ में आता है। कांग्रेस पार्टी ने जो वादा छत्तीसगढ़ में किया उसे निभाया और जो वादा असम में कर रही है उसे भी कांग्रेस पार्टी धरातल पर उतारेगी। कांग्रेस पार्टी जो वादा करती उसे निभाती है भारतीय जनता पार्टी की तरह जुमलेबाजी नहीं करती है।

error: Content is protected !!