बढ़ते दुष्कर्म के मामले साबित करते है कि महिलाओ की अस्मत और जान है खतरे में : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष साय ने कहा है कि प्रदेश में नाबालिग बच्चियों से लेकर उम्रदराज़ महिलाओं के साथ लगातार हो रही दुष्कर्म की वारदातों के लेकर प्रदेश सरकार और गृह मंत्रालय की कार्यप्रणाली एक बार फिर सवालों के दायरे में आ गई है। साय ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के नित-नए शिगूफे छोड़कर सियासी लफ़्फ़ाजी कर रही प्रदेश सरकार को दम तोड़ती क़ानून-व्यवस्था को लेकर ज़रा भी फ़िक्र नहीं है। साय ने कहा कि आदिवासियों के नाम पर सियासी नौटंकियों में मशगूल प्रदेश सरकार आदिवासी बच्चियों और महिलाओं की अस्मत की हिफ़ाज़त तक नहीं कर पा रही है, उससे महिला सशक्तिकरण की उम्मीद रकना बेमानी ही हो गया है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने जशपुर ज़िले के बगीचा थाना के पंड्राभाठ में कोरवा जनजाति की दो नाबालिग बच्चियों के साथ हुए दुष्कर्म का मामला सामने आने पर कहा कि प्रदेश में जबसे कांग्रेस सत्ता में आई है, महिलाओं की अस्मत और जान, दोनों ही हर क़दम पर हर पल ख़तरे में नज़र आ रही है। प्रदेश का कोई इलाका इन शर्मनाक वारदातों से अधूता नहीं रह गया है, बावज़ूद इसके प्रदेश सरकार अपराधियों पर नकेल कसने में नाकारा साबित हो रही है। राष्ट्रपति की दत्तक विशेष संरक्षित कोरवा जनजाति समुदाय के साथ लगातार हो रही दुष्कर्म की वारदातों के अलावा अन्याय, अत्याचार और दग़ाबाजी जैसे आपराधिक कृत्य प्रदेश सरकार के सत्ता-संरक्षण में बढ़ते जा रहे हैं। साय ने कहा कि आदिवासी समुदाय के साथ प्रदेश सरकार का लापरवाही भरा यह रवैया क़तई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। प्रदेश सरकार अपने पिछले दो साल के कार्यकाल में दुष्कर्म समेत दीग़र अपराधों के बढ़ते ग्राफ पर ज़रा तो शर्म महसूस करे। साय ने कटाक्ष कर प्रदेश सरकार को चेतावनी दी कि दूसरों को हंटर का ताना मारने के बजाय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपनी सरकार की कार्यप्रणाली दुरुस्त नहीं करेंगे तो प्रदेश की जनता के हंटर के दर्द से कांग्रेस बिलबिलाती नज़र आएगी।

error: Content is protected !!