विधानसभा : सदन में नाराज विधानसभा अध्यक्ष ने कहा, मुझे नियमो व परम्पराओ की है जानकारी

00 मैं 1980 से इस क्लास में बैठ रहा हूँ
रायपुर। विधानसभा में भाजपा सदस्यों के स्थगन की सूचना पर चर्चा के दौरान स्पीकर नाराज हो गए। स्पीकर डॉ. चरणदास महंत नाराज ने सदन की परंपरा और नियमों की जानकारी होने की बात कहते हुए सदस्यों से भी इसका पालन करने को कहा। जिसके बाद बीजेपी विधायक सदन की कार्यवाही छोड़कर बाहर निकल गए।
विधानसभा में शून्यकाल के दौरान बृजमोहन अग्रवाल ने स्थगन की सूचना देते हुए कहा कि हाउस ऑफ कॉमन्स भी परंपराओं से चलता है। बीजेपी विधायक यदि स्थगन की सूचना पर बात रखना चाहते हैं तो उन्हें मौका दिया जाना चाहिए। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि स्थगन की सूचना हमने दी है। स्थगन की सूचना में नाम है। हमारे सदस्य यदि किसी विषय पर कुछ कहना चाहते हैं, तो उन्हें बोलने का मौका दिया जाएगा। स्पीकर डॉ महंत ने कहा कि आसंदी में आप मुझसे पहले से विराजमान रहे है। 1980 से मैं इस क्लासरूम में बैठता हूँ, 5 बार विधानसभा और बार संसद का चुनाव लड़ा है। मुझे नियमों की भी जानकारी है और परम्पराओं की भी। परंपरा और नियम मैं भी जानता हूँमैं भी चिल्लाकर बात कर सकता हूँ लेकिन मैं धीरे कहता हूँ. बृजमोहन अग्रवाल ने इस पर कहा कि आपको नाराज होकर बात करने का अधिकार नहीं है। इस पर स्पीकर ने कहा कि गरिमा का प्रश्न हैनियम का प्रश्न हैपरंपरा का प्रश्न हैसबका पालन होगाआखिरकार स्थगन ग्राह्य नहीं किए जाने पर विपक्षी सदस्य सदन की कार्यवाही छोड़कर बाहर निकल गए।

error: Content is protected !!