छत्तीसगढ़ में विधानसभा सीटो की संख्या 130 किये जाने की उठी मांग

रायपुर। छत्तीसगढ़ में आबादी के हिसाब से विधानसभा, लोकसभा और राज्यसभा सीटों की संख्या में वृद्धि किये जाने की मांग पूर्व सांसद पीआर खुंटे ने उठाई है। पूर्व सांसद पीआर खुंटे कांग्रेस नेता हैं और वर्तमान में प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य भी है। श्री खुंटे गुरुवार को रायपुर प्रेस क्लब में मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने प्रदेश मेें अनुसूचित जाति के लोगों की उपेक्षा किये जाने पर सवाल उठाया।

उन्होंने मीडिया को बताया कि छत्तीसगढ़ मेें आदिवासियों का आरक्षण 20 से बढ़ाकर 32 प्रतिशत कर दिया गया। पिछड़ा वर्ग का आरक्षण 14 से बढ़ाकर 27 प्रतिशत कर दिया गया। सामान्य वर्ग जिनकी आबादी राज्य की कुल आबादी का मात्र 2 प्रतिशत है उन्हें 10 प्रतिशत का आरक्षण दे दिया गया और अनुसूचित जाति जिसकी आबादी राज्य में 55 लाख से अधिक है उसके लिए आरक्षण 16 से घटाकर 12 प्रतिशत कर दिया गया। उन्होंने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ में पहले लोकसभा में अनुसूचित जाति के लिए दो सीटे आरक्षित थी जिसे एक कर दिया गया। उन्होंने राज्य में अनुसूचित जाति के लिए 18 प्रतिशत आरक्षण दिये जाने की मांग की। साथ ही उन्होंने मांग किया है कि राज्य की आबादी 2 करोड़ 80 लाख के आधार पर विधानसभा सीटों की संख्या 130, लोकसभा सीटों की संख्या 17 और राज्यसभा सीटों की संख्या 7 किये जाने का प्रस्ताव विधानसभा में पारित कर केन्द्र को भेजा जाये।

error: Content is protected !!