कांग्रेस के पार्षद ने आदिवासी युवक को दौड़ाकर पीटा, मां लगाती रही छोड़ देने की गुहार

०० रायपुर शहर के पार्षद कामरान अंसारी की करतूतसोशल मीडिया में मारपीट का वीडियो वायरल

०० भाजपा के नेता पार्षद के खिलाफ कर रहे हैं एफआईआर की मांग

रायपुर| शहर के एक कांग्रेसी पार्षद का वीडियो सोशल मीडिया पर सोमवार को वायरल हो गया। पार्षद कामरान अंसारी इस वीडियो में एक युवक को दौड़ाकर पीटता नजर आ रहा है। जिस युवक को पीटा गया उसकी मां पार्षद और उसके समर्थकों से छोड़ देने की गुहार कर रही है, मगर गुस्साए पार्षद और समर्थक महिला की एक नहीं सुन रहे थे और युवक को पीटते रहे। रविवार को हुई इस मारपीट के मामले में युवक के खिलाफ पार्षद ने एफआईआर करवा दी। अब सोमवार की शाम भाजपा नेता पार्षद के खिलाफ शिकायत लेकर अनुसूचित जाति थाने पहुंच गए।

जिस युवक को पीटा गया उसकी मां ने सोमवार को बताया कि मारपीट के बाद पार्षद के लोगों ने हमारे घर आकर हमें धमकी दी है। हम डरे हुए हैं। मेरा बेटा कल से घर नहीं आया। पता नहीं वो कहा हैं। मैं पार्षद से कहती रही कि मेरे बेटे को माफ कर दे उसे छोड़ दे लेकिन वो नहीं सुन रहे थे। वो उसे पीटते रहे। हमारी शिकायत पुलिस ने नहीं ली, अब फिर से शिकायत करने थाने जाएंगे।पार्षद कामरान ने बताया कि युवक नशे में था और मेरे कार्यालय में घुसकर तोड़-फोड़ करने की कोशिश करने लगा। मना करने पर उसने गालियां दी और हत्या करने की धमकियां देने लगा। तब उसे दफ्तर से हमने बाहर निकाला । कामरान ने लात मारने की बात कबूलते हुए कहा कि हालात काबू में करने के लिए ऐसा करना पड़ा। युवक नशे के कारोबार से जुड़ा है। मुहल्ले में अवैध गतिविधियां करता है इसकी शिकायत की गई है।पार्षद की करतूत के वीडियो सामने आने के बाद अब इस मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी कूद चुकी है। स्थानीय स्तर के नेता पार्षद के खिलाफ एफआईआर की मांग कर रहे हैं। राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने इस मामले में ट्विटर पर लिखा – सत्ता के नशे में चूर कांग्रेस पार्टी के जनप्रतिनिधि द्वारा आदिवासी समाज की महिला एवं उसके पुत्र के साथ इस प्रकार का अत्याचार कांग्रेस पार्टी का जनजातीय समाज के प्रति सोच को दर्शाता है । इस घटना की जितनी भर्त्सना कि जाए उतनी कम है । भाजपा परिवार पीड़ित परिवार के साथ सदैव खड़ा है।

error: Content is protected !!