हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहे छत्तीसगढ़ के युवा, स्वामी विवेकानंद के विचारों एवं आदर्शों का अपने जीवन में अनुकरण करें : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

०० छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण एवं छत्तीसगढ़ संस्कृति परिषद का होगा गठन
०० शासकीय दिग्विजय महाविद्यालय के एनसीसी के विद्यार्थियों ने सुना लोकवाणी

रायपुर| मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की रेडियो वार्ता लोकवाणी की 14वीं कड़ी में युवाओं से बातचीत विषय पर आज राजनांदगांव के शासकीय दिग्विजय स्वशासी स्नातकोŸार महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना (एनसीसी) के छात्रों ने तन्मयता पूर्वक सुना। मुख्यमंत्री  श्री भूपेश बघेल ने 12 जनवरी को स्वामी विवेकानन्द की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर उनके  प्रेरणादायक विचार एवं आदर्शों के संबंध में युवाओं से चर्चा की। उन्होंने स्वामी विवेकानन्द के शब्दों का स्मरण करते हुए युवाओं से कहा कि एक विचार उठाओउसे अपना जीवन बना लो’ यह सफलता का मार्ग है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि छŸाीसगढ़ के युवा हर मंच पर छŸाीसगढ़ का नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बेहतर खेल अधोसंरचनाओं के विकास से खेल प्रतिभाओं को अपनी प्रतिभा निखारने और छŸाीसगढ़ संस्कृति परिषद के जरिए युवा साहित्यकारों और कलाकारों को सही मंचमार्गदर्शन और प्रोत्साहन मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य में छŸाीसगढ़ संस्कृति परिषद के गठन का निर्णय लिया है। जिसके अंतर्गत स्थानीय कला-संस्कृति को महत्व देते हुए स्थानीय कलाकारों को भरपूर अवसर मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं में शानदार उपलब्धियां हासिल करने वाले छŸाीसगढ़ के खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि राज्य में छŸाीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन किया गया है। जहां हॉकीफुटबालबैडमिंटनतीरंदाजीवालीबॉलकबड्डी आदि खेलों के निःशुल्क प्रशिक्षण की सुविधा दी गई है। अब खेलो इंडिया योजना के तहत रायपुर में राष्ट्रीय स्तर की आवासीय हॉकी अकादमी तथा बिलासपुर में तीरंदाजी का सेंटर ऑफ  एक्सीलेंस बनाया जाएगा। प्रदेश के सभी नगरीय-निकायों तथा पंचायतों में राजीव युवा मितान क्लब का गठन भी किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि कौशल विकास योजना के बेहतर ढंग से क्रियान्वयन के लिए कोरोना काल में नई गाइडलाइन जारी की गई है। जिसके तहत बाजार की मांग और आधुनिक तकनीकी पर आधारित प्रशिक्षण शुरू किया गया है। पिछले दो वर्षों में 46 हजार से अधिक युवाओं ने प्रशिक्षण लिया हैजिसमें लगभग 23 हजार युवाओं ने अपना काम शुरू कर दिया है। कोरोना के कारण जो प्रवासी श्रमिक वापस लौटे उनमें से लाख 14 हजार लोगों की स्किल मैपिंग करके उनके प्रशिक्षण और रोजगार की व्यवस्था की जा रही है। कृषिवानिकीइनके उत्पादनों का प्रसंस्करणनई उद्योग नीति आदि के माध्यम से सर्वांगीण विकास और चौतरफा विकास की रणनीति अपनाई गई हैताकि छोटे-बड़े हर स्तर पर लोगों को काम मिले। राजीव गांधी किसान न्याय योजनागोधन न्याय योजनासुराजी गांव योजना के कारण भी गांव-गांव में रोजगार के नए अवसर बने हैं। गोबर हमारी पूरी कृषि और ग्रामीण अर्थव्यवस्था के केन्द्र में है। लेकिन अब इससे बनने वाले कलात्मक उत्पादों के लिए राज्य से लेकर दिल्ली तक मार्ट खुल जाना एक नई तरह की क्रांति है। नई उद्योग नीति से नए उद्योग लगने की पहल हो रही है तो उसमें भी करीब 50 हजार लोगों को रोजगार मिलने की संभावना बन गई है। सिर्फ  नए उद्योगों में ही लगभग दो साल में 15 हजार लोगों को रोजगार मिल गया है। दो वर्ष में 22 प्रतिशत से घटकर बेरोजगारी दर से प्रतिशत के बीच रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेरोजगार युवा स्नातक इंजीनियर को ई-श्रेणी में एकीकृत पंजीयन कर ब्लॉक स्तर पर 20 लाख तक के कार्य दिए जाएंगे। इसके अलावा बेरोजगार डिग्रीधारीडिप्लोमाधारीराज मिóी को भी आसानी से रोजगार दिलाने के लिए पृथक से निविदा प्रक्रिया की व्यवस्था की गई है। शासकीय दिग्विजय स्वशासी स्नातकोŸार महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना (एनसीसी) के एमए अंतिम वर्ष के छात्र प्रीतम कुमार ने कहा कि वे शासन द्वारा युवा एवं किसान वर्ग के लिए चलाए जा रहे योजनाओं से प्रभावित हैं। बीकॉम अंतिम वर्ष के छात्र डालेन्द्र साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत युवाओं को अपने हुनर के हिसाब से निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिससे युवा आत्मनिर्भर हो रहे हैं। बीकॉम अंतिम वर्ष की छात्रा वीणा साहू ने कहा कि शासन द्वारा युवाओं के लिए विभिन्न योजनाएं हैं। वहीं छŸाीसगढ़ में कला को बढ़ावा देने के लिए छŸाीसगढ़ सांस्कृतिक अकादमी का गठन किया गया है। जिसमें अपनी कला को उभारने का अवसर मिलेगा। एम कॉम की छात्रा चांदनी झा ने कहा कि शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं से लोगों का जीवन स्तर में बढ़ोŸारी हुई हैजो बहुत ही प्रशंसनीय है। बीएससी द्वितीय वर्ष के छात्र डालुसिंह श्रीवास ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए शासन द्वारा निःशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराने से युवाओं को मार्गदर्शन मिल रहा है। बीकॉम अंतिम वर्ष के छात्र नोमंत देवांगन ने कहा कि कौशल विकास योजना के अंतर्गत ऋण लेने की व्यवस्था से युवा स्वरोजगार के लिए प्रेरित हो रहे है। बीकॉम अंतिम वर्ष की छात्रा खेमिन साहू ने कहा कि कौशल विकास योजना से गांव के युवाओं को लाभ मिल रहा है। अर्जुन महिलांगेउर्वशी चंदेलसुधा साहूवीणा देवांगनलोकेश्वर खुटेलकरणवीणा साहू ने भी लोकवाणी सुना। 

error: Content is protected !!