महंगाई से गृहणियां त्रस्त है, पर भाजपाई अहंकार में मस्त है : कांग्रेस

रसोई गैस के दामों में बेवजह की वृद्धि का असर 62 लाख परिवार पर पड़ेगा

रसोई गैस के दामों में वृद्धि केवल मुनाफाखोरीघरेलू गैस सिलेंडर के दाम 100 रू. बढ़ गये

रायपुर। रसोई गैस के दामों में 14 दिन के भीतर हुई 100 रु. प्रति सिलेंडर की वृद्धि को कांग्रेस ने मोदी निर्मित आपदा करार दिया। कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रसोई गैस के दामों में वृद्धि का कोई अंतर्राष्ट्रीय कारण नही है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों में किसी प्रकार का बढ़ोतरी नहीं हुआ है। भारत में रसोई गैस के दामों में वृद्धि का कारण स्थानीय केंद्र सरकार की नाकामी है। मोदी भाजपा की सरकार 14 दिन के भीतर रसोई गैस के दामों में प्रति सिलेंडर 100 रू. की वृद्धि कर देश के 62 लाख परिवार जो रसोई गैस का उपयोग करते हैं उन पर महंगाई के बोझ को बढ़ाने का काम किया है। रसोई गैस के दामों में वृद्धि के पहले डीजल-पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी किया गया था जिसका असर किचन से लेकर ट्रांसपोर्ट तक दिखा था। अब रसोई गैस के दामों में बेवजह वृद्धि होना ही स्पष्ट होता है कि मोदी सरकार ने अपने चंद मित्रों को मुनाफाखोरी की खुली छूट दे रखी है। विगत 15 दिनों से देश भर में किसान आंदोलित है। उनकी मांगे सुनना छोड़ आपदा को अवसर में बदलते हुये मोदी सरकार ने 1 महीने में दूसरी बार गैस सिलेंडर के दाम में भारी वृद्धि की है। किसानो को खाद और बीज में मिलने वाली सब्सिडी पहले ही कम कर दी गयी, करोड़ो परिवारो को गैस सब्सिडी से वंचित किया गया और अब डीजल-पेट्रोल के साथ गैस सिलेंडर के दामों में भी लगातार वृद्धि कर आम जनता को लूटने का काम मोदी सरकार कर रही है।

कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि ऐसा समय देखा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल न्यूनतम स्तर पर रहा और देश में मोदी सरकार की लूट और मुनाफाखोरी सीधे रूप से किसान, मध्यमवर्ग और गरीब लोगों के पेट में लात मारने का काम कर रही है। मोदी जी नए साल से पहले एक और महंगा तोहफा देने का निर्णय किया है। मोदी भाजपा की सरकार पर आरोप लगाते हुए कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि उज्जवला योजना तो बनाई है लेकिन उज्जवला योजना के हितग्राहियों को मुफ्त दिए जा रहे रसोई गैस सिलेंडरों पर होने वाले खर्च को वहन नही कर रही है बल्कि उज्ज्वला योजना पर होने वाले खर्च को 62 लाख उपभोक्ताओं से वसूल रही है। दूसरी ओर रसोई गैस के पर 103 प्रतिशत टैक्स लगाकर रसोई गैस के दामों के वृद्धि कर रही है और रसोई गैस में मिलने वाले सब्सिडी को खत्म कर जनता के ऊपर बोझ बढ़ाने काम किया है। बीते 2 महीने में रसोई गैस में मिलने वाली सब्सिडी में 111 रू. की कटौती कर दी गई है। रसोई गैस के दामों में 14 दिन में 100 रू. की बढ़ोत्तरी करना मोदी भाजपा सरकार की मुनाफाखोरी की नीति को दिखा रहा है। त्रिवेदी ने कहा है कि मोदी भाजपा की सरकार की नीति किसान, मजदूर, महिला, गृहणी विरोधी है। मोदी भाजपा सिर्फ चंद पूंजीपतियों के हित के बारे में सोचती है और आम जनता के ऊपर महंगाई का बोझ लादती है।

error: Content is protected !!