सोशल मीडिया पर छाया रहा छत्तीसगढ़ का वर्चुअल मैराथन, एक लाख से ज्यादा लोगों ने लगाई दौड़

०० भूपेश सरकार के दो साल पूरे होने पर बलरामपुर से सुकमा तक दौड़ा पूरा छत्तीसगढ़

०० देश में दिनभर ट्रेंड करता रहा रन विथ छत्तीसगढ़

रायपुर| छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार के 2 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित वर्चुअल मैराथन में आज एक लाख से ज्यादा लोगों ने दौड़ लगाई। बलरामपुर से सुकमा तक सभी 28 जिलों के लोगों ने इसमें हिस्सा लिया। मुख्यमंत्री श्री बघेल भी इस आयोजन में शामिल हुए। इस मैराथन के लिए सुबह 6 बजे से 11 बजे तक का समय तय किया गया था, समय-सीमा बीतने के बाद भी मैराथन जारी था।
कोरोना की परिस्थितियों को देखते हुए राज्य के खेल एवं युवा कल्याण तथा जनसंपर्क विभाग ने इस खास तरह के मैराथन का आयोजन किया था। आम-तौर पर आयोजित किए जाने वाले मैराथन से अलग इस वर्चुअल मैराथन में कोरोना-काल की सावधानियों को देखते हुए प्रतिभागियों को कोविडकाल के नियमों का पालन करते हुए सोशल मीडिया पर अपनी दौड़ती हुई तस्वीर या वीडियो अपलोड करनी थी। आयोजन की थीम – ‘बात हे अभिमान के, छत्तीसगढ़िया स्वाभिमान के ‘- तय की गई थी। तस्वीरें और वीडियो  हैशटैग runwithchhattisgarh के साथ अपलोड करने की अपील की गई थी। फेसबुक और ट्वीटर पर यह हैशटैग दिनभर ट्रेंड करता रहा। आयोजन में शामिल होने के लिए 71 हजार लोगों ने पंजीयन कराया था, लेकिन सुबह 11 बजे तक एक लाख से अधिक लोग इस आयोजन में शामिल हो चुके थे।मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज सुबह की शुरुआत इस वर्चुअल-मैराथन में शामिल होकर की। उन्होंने खास टीशर्ट के साथ दौड़ते हुए अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर अपलोड की। उन्होंने कहा मेरे साथ छत्तीसगढ़ की जनता और छत्तीसगढ़ का स्वाभिमान दौड़ रहा है, आप भी दौड़ें। प्रदेश के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, राजस्व मंत्री श्री जय सिंह अग्रवाल, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंडिया, आबकारी मंत्री श्री कवासी लखमा, राज्यसभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा, रायपुर (ग्रामीण) के वरिष्ठ विधायक श्री सत्यनारायण शर्मा, रायपुर के महापौर श्री एजाज ढेबर सहित अनेक जनप्रतिनिधियों ने इस आयोजन में हिस्सा लिया। राजधानी रायपुर में मुख्यसचिव श्री अमिताभ जैन और पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम.अवस्थी, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री राकेश चतुर्वेदी और मुख्यमंत्री के सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी समेत अनेक प्रशासनिक अधिकारियों और कर्मचारियों ने भी वर्चुअल मैराथन में हिस्सा लिया। आयोजन को लेकर आम लोगों में भी अच्छा उत्साह नजर आया। बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी आयु वर्ग के लोगों ने अपनी भागीदारी निभाते हुए सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीरें अपलोड कीं।

error: Content is protected !!