राजस्व मंत्री ने बिल्हा के तहसीलदार को किया सस्पेंड, जमीन नामांतरण मामलों की होगी जांच

०० पेंड्रीडीह स्थित 4 खसरा नंबर की 7 एकड़ जमीन राजस्व रिकॉर्ड में निस्तार भूमि के नाम दर्ज

रायपुर| राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल ने बुधवार को बिल्हा के तहसीलदार सत्यपाल राय को सस्पेंड कर दिया है। तहसीलदार राय के ऊपर पेंड्राडीह स्थित सरकारी जमीन को व्यापारियों व अन्य लोगों के नाम करने का आरोप है। इस मामले में नेता प्रतिपक्ष और बिल्हा विधायक धरमलाल कौशिक ने कलेक्टर को चिट्ठी लिखकर दो दिन पहले शिकायत की थी।

राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल ने बताया कि 26 एकड़ सरकारी जमीन को तहसीलदार ने कुछ व्यापारी और अन्य लोगों के नाम कर दिया था। इस जमीन का नामांतरण कर मुआवजा भी ले लिया गया। मंत्री अग्रवाल ने बताया कि जिस जमीन को खुर्द-बुर्द किया गया, उस पर से नेशनल हाईवे गुजरता है। इस संबंध में मंगलवार शाम को ही बिलासपुर कलेक्टर और एसडीएम से चर्चा की थी इसके बाद कार्यवाही की गई है। प्रथम दृष्टया सामने आया कि उसमें करोड़ों का भ्रष्टाचार भी किया गया है। इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं उन्होंने आशंका जताई कि प्रदेश में अन्य जगह भी इस तरह के मामले हो सकते हैं। विधायक धरमलाल कौशिक ने कलेक्टर को लिखा था, पेंड्रीडीह में शासकीय भूमि के रूप में दर्ज खसरा नंबर 249, 219, 278, 556 का नामांतरण तहसीलदार सत्यपाल राय ने किसी दूसरे व्यक्ति के नाम पर कर दिया है। उनके मुताबिक यह जमीन निस्तार की है, जिसका 90 सालों से ग्रामीण इस्तेमाल करते आ रहे हैं। इसलिए राजस्व अधिकारियों द्वारा ऐसा करना गलत है।

error: Content is protected !!